अगरबत्ती और दाल-चावल के बाद अब तेजप्रताप यादव कई शहरों में खोलेंगे ऑर्गेनिक रेस्टोरेंट चेन, नाम होगा लालू की रसोई

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव राजनेता के साथ-साथ बिजनेस की दुनिया में भी तेजी से कदम बढ़ा रहे हैं। लालू के बड़े लाल इस बार अपने नए बिजनेस प्लान की वजह से सुर्खियों में हैं। तेजप्रताप यादव ऑल इंडिया लेवल पर ‘लालू की रसोई’ नाम से फ्रेंचाइजी बांटने वाले हैं। बिहार में इसे लेकर जोर-शोर से चर्चा चल रही है। यह जानकारी उन्होंने एक न्यूज पोर्टल के साथ बातचीत में बताई है।

तेजप्रताप यादव ने इससे पहले एलआर नाम से अगरबत्ती लॉन्च की थी। एलआर मतलब लालू-राबड़ी के नाम के पहले अक्षर। इसके बाद हाल ही में उन्होंने एलआर एंड मल्टीग्रेन नाम से चावल का बिजनेस शुरू किया था। उन्होंने वादा किया है कि वो बिहार के किसानों से चावल लेकर उसे बाजार में बेचेंगे। अब लालू के लाल नई तैयारी में जुट गए हैं। वे शहरों में चेन सिस्टम के आधार पर कई रेस्टोरेंट खोलेंगे। इस चेन का नाम ‘लालू की रसोई’ होगा।

 

मुंबई से होगी शुरुआत

तेजप्रताप यादव के रेस्टोरेंट की शुरुआत बिहार से नहीं बल्कि मायानगरी मुंबई से होगी। इसमें क्या खास होगा इसकी जानकारी साझा करते हुए उन्होंने बताया कि यह ग्राहकों को गांव की याद दिलाएगा। इसका खाना स्वादिष्ट और लजीज होगा। रेस्टेरेंट के अंदर का इंटीरियर डिजाइन पूरी तरह से ग्रामीण माहौल वाला होगा। बैलगाड़ी, गाय, खटिया, पुआल, जैसे सामग्रियों से इसे गांव का लुक दिया जाएगा। यह लुक लोगों को सुकून के साथ ही घर जैसे माहौल का अनुभव कराएगा। कोई व्यक्ति जब शाम को यहां आएगा तो उसे अपने गांव की याद आएगी। खाने में देसी फ्लेवर भी मिलेगा। 

हर शहर में दी जाएगी फ्रेंचाइजी

तेजप्रताप के रेस्टोरेंट में बरामदे और दलान का भी कॉन्सेप्ट होगा। जहां लोगों के बैठने के लिए चौकी और खटिया लगाई जाएगी। पारंपरिक लोटा और ग्लास में पानी और जूस परोसा जाएगा। खाना बर्तनों की जगह पत्तलों में दिया जाएगा। सबकुछ ऑर्गेनिक और घर में बना हुआ भोजन होगा। काम करने वाले कारीगर पूरी तरह से एक्सपर्ट होंगे। तेजप्रताप का कहना है कि उनके रेस्टोरेंट में साउथ और नार्थ के अलावा वेज और नॉनवेज खाने का पूरा कलेक्शन मिलेगा। देसी फ्लेवर मस्ट होगा। उनका कहना है कि खाने वाले बिजनेस में नुकसान कम होता है। सभी शहरों में लालू की रसोई की फ्रेंचाइजी दी जाएगी। ऐसे में कोई भी व्यक्ति इसकी फ्रेंचाइजी लेकर रेस्टोरेंट खोल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.