एनडीए के बाद महागठबंधन में सीटों को लेकर शुरू हुआ महाभारत

राजनीति

पटना: नीतीश-शाह के मुलाकात के बाद राजग नेताओं के बयानबाजी थम चूका है, लेकिन प्रदेश में सीट शेयरिंग का मुद्दा थमने का नाम नहीं ले रहा है. कल तक एनडीए पर तंज कसने वाले महागठबंधन के नेता आज खुद ही विवादों में पड़ गये है. विदित हो एनडीए की तरह अब महागठबंधन में सीटों को लेकर रार बढ़ने लगी है. महागठबंधन के घटक दल कांग्रेस और हम ने अपने सीटों का दावा कर बीमार राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें बढ़ा दी है.

दोनों दल अपना रुतबा बढ़ाने के लिए ज्यादा से ज्यादा सीट लेने की तैयारी में है. कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह ने आज बड़ा बयान दिया और राजद के समक्ष दावे के साथ 12 सीटों की मांग रखा. हालांकि राजद नेताओं के तरफ से अभी इस बाबत कोई बयान नहीं आया है. राजद नेता यह जाताने में लगे है कि महागठबंधन में सब कुछ सही है. वहीं सूत्रों का कहना है कि लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र हम प्रमुख जीतनराम मांझी ने अपना कद बढ़ाते हुए 5 सीटों की मांग करने वाले है. इसके लिए मांझी पूरी तरह से तैयार है. ऐसे में मांझी भी पांच सीटों पर दावा ठोक महागठबंधन के लिए परेशानियां बढ़ा दी है.

फाइल फोटो

इस पर एनडीए के नेताओं ने जम कर चुटकी लिया और राजद पर निशाना भी साधा. बीजेपी नेता विनोद सिंह ने कहा कि महागठबंधन में कपार फुटवल होगा. आगे देखते जाए राजद में क्या क्या होता है. वहीं जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि राजद के लिए सर फुटवल शुरू होने वाला है. आगे महागठबंधन में अभी बहुत कुछ होना बाकी है.

बता दें कांग्रेस का इससे पहले कहना था कि सीट कोई मायने नहीं रखता है, जीत अहम है. फ़िलहाल कांग्रेस अपने बयान से मुकर जदयू की राह चल दी है. ऐसे में कयास लगाया जा रहा है कि जदयू की तरह कांग्रेस भी यह जताना चाह रही है कि पहले के अपेक्षा हमारी मजबूती बढ़ी है. लिहाजा, राजद के लिए विवादों का दौर शुरू हो चूका है. अब देखना यह होगा कि महागठबंधन अपने विवाद को कैसे सुलझाती है.

Source: DBN News

Leave a Reply

Your email address will not be published.