अबूझ पहेली बनी महिला की सिर कटी लाश.. खेत से कपाल और बगीचे से मिला था धड़, छह माह बाद भी पुलिस खाली हाथ

खबरें बिहार की जानकारी

भेजा थाना क्षेत्र में रहुआ-संग्राम गांव स्थित पुनर्वास बधार में छह माह पूर्व एक महिला की सिर कटी लाश पुलिस ने बरामद की थी। लेकिन, इस घटना का पर्दाफाश करने में छह माह बाद भी पुलिस को सफलता हाथ नहीं लगी है। मानो यह घटना पुलिस के लिए अबूझ पहेली बनी हुई है।

सिर कटी महिला का शव 24 जून 2022 को भेजा थाना पुलिस ने बरामद किया गया था। मृतका की उम्र लगभग 30 वर्ष बताई गई थी। शव को देखने से प्रतीत हुआ था कि महिला की हत्या किसी तेज धारदार हथियार से की गई थी। अपराधियों ने इस घटना में धारदार हथियार से महिला का सिर धड़ से अलग कर दिया था।

भेजा थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष पीएसआइ वशिष्ठ कुमार, एएसआइ उमेश पांडेय, मधेपुर थानाध्यक्ष हरि किशोर यादव, एएसआइ शंभु कुमार ने दलबल के साथ घटनास्थल पर जाकर अलग-अलग जगहों से शव के टुकड़ों को बरामद किया था। महिला का सिर एक खेत से बरामद किया गया था, जिसमें लंबी घास उगी हुई थी। जबकि, धड़ उससे सौ मीटर दूर पूर्व दिशा में बांस के बगीचे से बरामद किया गया था।

छह माह बीत जाने के उपरांत भी भेजा थाना पुलिस अब तक मृतका की शिनाख्त नहीं कर पाई है। पुलिस हत्यारे का कोई सुराग भी नहीं ढूंढ पाई है। भेजा थानाध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया कि इस मामले में पुलिस हरसंभव प्रयास कर रही है ताकि मृतका की पहचान हो सके। अपराधियों की भी पहचान कर गिरफ्तार किया जा सके।

उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक अनुसंधान भी की जा रही है, लेकिन अब तक कुछ भी सफलता हाथ नहीं लगी है। वहीं, इस मामले में आमलोग पुलिस की कार्यशैली व उदासीनता पर सवाल उठा रहे हैं। लोगों का कहना है कि इस केस में कोई खोज खबर लेने वाला नहीं है, इसलिए पुलिस ने इस मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.