दिल्ली डेयरडेविल्स आईपीएल-11 में शनिवार को भी अपने हार के सिलसिले को नहीं तोड़ पाई. दिल्ली को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने उसके घर फिरोज़ शाह कोटला मैदान पर खेले गए मैच में पांच विकेट से हरा दिया.

दिल्ली ने पहले बल्लेबाज़ी करेत हुए रिषभ पंत (61) और अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे अभिषेक शर्मा (46) के दम पर 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 181 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया था. बैंगलोर ने एबी डिविलियर्स (नाबाद 72) और कप्तान विराट कोहली (70) के बीच हुई शतकीय साझेदारी के बूते एक ओवर पहले पांच विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया.

दिल्ली ने बंगलोर को अच्छी शुरुआत से तो महरूम रखा और 18 रनों पर ही उसके दोनों सलाम बल्लेबाज़ों पार्थिव पटेल (6) और मोइन अली (1) को पवेलियन भेज दिया. अली को छह के कुल स्कोर पर ट्रेंट बोल्ट ने अपना शिकार बनाया तो पटेल को अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे संदीम लामिछाने ने आउट किया.

लेकिन इसके बाद कोहली और डिविलियर्स की जोड़ी ने दिल्ली के गेंदबाज़ों को और हावी नहीं होने दिया. दोनों ने तीसरे विकेट लिए 118 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत की राह पर बनाए रखा. कोहली ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 40 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके तथा तीन छक्के लगाए.

डिविलियर्स ने 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर छक्का मार अपनी टीम को जीत दिलाई. अपनी नाबाद पारी में डिविलियर्स ने 37 गेंदों का सामना करते हुए छह छक्के और चार चौके लगाए.

एबी डिविलियर्स को मैन ऑफ दी मैच चुना गया. डिविलियर्स मे मैच के बाद कहा, “आज बहुत अजीब लग रहा था लेकिन अमित मिश्रा की बॉल पर चौका मिलने से मुझे पारी शुरू करने में मदद मिली. मैंने शुरुआत धीमी की थी, अच्छी बात ये थी कि विराट अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहा था, जिससे मुझे मदद मिली. मुझे पहली 10-15 गेंद खेलने के बाद थोड़ा बेहतर लगा.”

नेपाल के युवा खिलाड़ी संदीप लामिछाने की तारीफ करते हुए डिविलियर्स ने कहा, “लामिछाने सिर्फ 17 साल के हैं, और देखना अद्भुत है. मैं सोचता हूं कि ये इतनी कम उम्र में ऐसा कैसे कर लेते हैं. ऐसे खिलाड़ियों का होना वर्ल्ड क्रिकेट के लिए बहुत अच्छा है. आखिर में टीम मुझे अच्छा करने के लिए प्रेरणा देती है. टीम के लिए अच्छा खेलना और जीतना मुझे अच्छा लग रहा है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here