आजादी का अमृत महोत्सव: 50 पैसे के पोस्टकार्ड पर लिखा जाएगा देश का इतिहास, डाक विभाग की ये है योजना

जानकारी

आजादी के अमृत महोत्सव में स्कूली बच्चों की भागीदारी और देश को लेकर उनकी समझ को परखने के लिए एक नयी पहल की गयी है।  बच्चे पोस्टकार्ड के जरिए देश के सामने आपनी राय रखेंगे। देशभर से 75 लाख बच्चे इसमें शामिल होंगे जिनमें बिहार से 10 लाख बच्चों को शामिल कराने की तैयारी चल रही है।

20 दिसंबर तक भेजना है पोस्टकार्ड

 

राज्यभर के सभी निजी स्कूल के दस लाख बच्चे पोस्टकार्ड पर भारत के इतिहास के बारे में बताएगे। बच्चे इसके अलावा देश की संस्कृति, आजादी का अमृत महोत्सव के साथ स्वतंत्रता सेनानी के बारे में लिखेंगे। सीबीएसई द्वारा सभी स्कूलों को इसकी जानकारी दी गयी है। इसमें सीबीएसई स्कूलों के साथ सीआईएससीई और केंद्रीय विद्यालय के छात्र शामिल होंगे। छात्रों द्वारा पोस्टकार्ड से आजादी के अमृत महोत्सव पर सलाह दी जाएगी।

 

ज्ञात हो कि पोस्टल विभाग, मिनिस्ट्री ऑफ कम्यूनिकेशन के साथ शिक्षा मंत्रालय और स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा इसका आयोजन किया जा रहा है। देशभर से इसमें 75 लाख छात्र शामिल होंगे। 50 पैसे के पोस्टकार्ड पर देश का इतिहास लिखा जाएगा। हर स्कूल को 20 दिसंबर तक पोस्टकार्ड भेजना है।

दस छात्र का आइडिया होगा अपलोड

 

सीबीएसई की मानें तो देशभर से आए आइडिया में से दस छात्रों का चयन किया जाएगा। इन्हें सीबीएसई पोर्टल पर अपलोड किया जायेगा। पहले सीबीएसई क्षेत्रीय कार्यालय से जोन स्तर पर 320 पोस्टकार्ड का चयन होगा। राष्ट्रीय स्तर पर कुल 75 पोस्टकार्ड का चयन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.