आज से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, नाइट कर्फ्यू हटा; मॉल-जिम-सिनेमा हॉल भी खुलेंगे, शादी में 200 लोगों को अनुमति

जानकारी

बिहार में कोरोना संक्रमण दर आधा फीसदी से भी कम हो गई है। संक्रमण के विस्तार के रुझान भी अब कमजोर नजर आ रहे हैं। इसके मद्देनजर राज्य सरकार ने 32 दिन पहले लगाई गई पाबंदियों में से ज्यादतर को हटाने का फैसला किया है। नाइट कर्फ्यू हटा दिया गया है। नौवीं कक्षा से ऊपर के शिक्षण संस्थान पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे। दुकानें खोलने की समय सीमा की पाबंदी को भी खत्म कर दी गई है।

मॉल, जिम, सिनेमाहॉल, पार्क व स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स भी खुलेंगे। धार्मिक स्थलों को श्रद्धालुओं के लिए खोलने का फैसला लिया गया है। शादी-विवाह के कार्यक्रम और श्राद्धकर्म में 50 की जगह 200 लोगों को शामिल होने की इजाजत दी गई है। सामाजिक, धार्मिक सहित अन्य आयोजन भी पूर्वानुमति के साथ हो सकेंगे। नई गाइडलाइन सात से 13 फरवरी तक प्रभावी रहेगी।

 

कोरोना संक्रमण की समीक्षा के लिए रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में राज्य आपदा प्रबंधन समूह (सीएमजी) की बैठक हुई। वीडियो कान्फ्रेंसिंग से हुई इस बैठक में पाबंदियों में ढील देने का निर्णय लिया गया। बैठक में उपमुख्मंत्री तारकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे। सबसे पहले मुख्यमंत्री ने खुद ट्वीट कर प्रतिबंधों में ढील की जानकारी साझा की। इसके बाद गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी विस्तृत जानकारी दी।

 

शिक्षा

आठवीं कक्षा तक के सभी विद्यालय व कोचिंग संस्थान 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलेंगे

नवीं और उससे ऊपर के स्कूल, कॉलेज व कोचिंग में शत-प्रतिशत उपस्थिति के साथ पढ़ाई होगी

स्कूल-कॉलेज और कोचिंग संस्थानों के कार्यालय और छात्रावास पूरी क्षमता के साथ संचालित होंगे

नियोजन के लिए सभी तरह की परीक्षाओं के साथ विभिन्न विद्यालय व बोर्डों द्वारा आयोजित परीक्षाएं भी होंगी

कारोबार

दुकान व प्रतिष्ठान अब सामान्य रूप से खुलेंगे, समय सीमा की पाबंदी खत्म हुई

मॉल पूरी क्षमता से जबकि जिम, क्लब, सिनेमा हॉल व स्विमिंग पुल 50 प्रतिशत की क्षमता से खुलेंगे

दुकान व प्रतिष्ठान में सोशल डिस्टेंसिंग व मॉस्क पहनना अनिवार्य होगा

दुकान या प्रतिष्ठान में वहीं काम करेंगे जिन्होंने कोविड का टीका लिया हो

 

सामाजिक कार्य

शादी-विवाह के अलावा श्राद्ध कार्यक्रम में 50 की जगह अब 200 लोगों की उपस्थित रहेगी

बारात में जुलूस और डीजे की अनुमति फिलहाल नहीं, विवाह की पूर्व सूचना 3 दिन पहले थाना को देना अनिवार्य

शादी-विवाह की सूचना पहले की तरह तीन दिन पूर्व स्थानीय थाना को सूचना देने की व्यवस्था बहाल रहेगी 

सभी सामाजिक, राजनीतिक, मनोरंजन, खेल-कूद, शैक्षणिक, सांस्कृतिक व धार्मिक आयोजन पूर्वानुमति के साथ होंगे

 

धार्मिक आयोजन

मंदिर-मस्जिद समेत अन्य धार्मिक स्थल सामान्य रूप से खुलेंगे

प्रबंधन को कोविड प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित करना होगा 

अभी तक धार्मिक स्थल आमजनों और श्रद्धालुओं के लिए बंद थे 

नए गाइडलाइन के बाद सोमवार से मंदिरों दर्शन व पूजा-पाठ कर सकेंगे 

 

मुख्यमंत्री का ट्वीट

कोरोना की स्थिति की समीक्षा की गई। संक्रमण की स्थिति में सुधार को देखते हुए 8वीं कक्षा तक के सभी विद्यालय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ तथा 9वीं एवं ऊपर की कक्षाओं से संबंधित सभी विद्यालय एवं महाविद्यालय तथा कोचिंग संस्थान शत-प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोलने का निर्णय लिया गया। हम सभी बिहारवासियों को कोविड के कारण अभी भी सावधानी बरतने की जरूरत है। मास्क के उपयोग के साथ ही सामाजिक दूरी का पालन करना नितांत आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.