आधा दिसबंर बीतने के बाद ठंड ने पकड़ी रफ्तार, शाम ढ़लते ही बढ़ रही कनकनी; गया में सबसे अधिक ठंड

खबरें बिहार की जानकारी

शाम ढ़लते ही प्रदेश में पारा गिर जा रहा है। रातभर तापमान में गिरावट जारी रहता है। इस तरह की स्थिति आगे भी जारी रहने की उम्मीद है। सूर्यास्त के दो घंटे के अंदर ही पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट देखा जा रहा है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी संजय कुमार का कहना है कि पूर्व में धीरे-धीरे पछुआ का प्रवाह बढ़ रहा है। उसी के साथ ठंड में वृद्धि देखी जा रही है। सुबह में कोहरे का प्रभाव दिखाई देने लगा है। खासकर उत्तरी बिहार के अधिकांश जिलों में सुबह में कोहरा छाने लगा है।

मौसम विज्ञानियों की सलाह है कि आजकल सूर्योदय के बाद ही घर से बाहर निकलना बेहतर होगा। देर रात को भी खुले में नहीं रहें। रात में तापमान काफी गिर जा रहा है। राजधानी में अधिकतम तापमान 24.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। राजधानी में आर्द्रता 70 प्रतिशत रिकार्ड किया गया। राजधानी में न्यूनतम तापमान 9.5 एवं गया 6.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

भागलपुर में ठंड ने पिछले पांच वर्षों का रिकार्ड तोड़ा

भागलपुर और आसपास के इलाकों में पछुआ हवा का बहाव तेज हुआ है। न्यूनतम तापमान में तेजी के साथ गिरावट दर्ज की जा रही है। शनिवार को न्यूनतम तापमान ने पिछले पांच वर्षों का रिकार्ड तोड़ दिया। 17 दिसंबर को आठ डिग्री सेल्सियस तापमान रहा, जो बीते वर्षों में कभी इतना नहीं रहा। वहीं पछुआ हवा के रफ्तार पकड़ते ही ठंड भी बढ़ने लगी है।

सुबह से ही चलेगी शीतलहर

बिहार कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डा. सुनील कुमार ने बताया कि पछुआ हवा की गति आठ किलोमीटर प्रति घंटा चलने के कारण न्यूनतम तापमान में गिरावट होगी। अधिकतम तापमान भी गिरेगा। दिन में धूप खिलेगी, जिससे ठंड से राहत मिलेगी। आसमान साफ रहेगा, लेकिन जहां-तहां कोहरे का असर दिखाई देगा। सुबह शीतलहर चलेगी। बताया गया कि मौसमी कारकों के प्रभाव से आगामी पांच दिनों तक मौसम शुष्क बना रहेगा। आसमान साफ रहेगा। दिन के तापमान में ज्यादा उतार-चढ़ाव का अंतर नहीं दिखेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.