9 अक्टूबर से शुरू हो रहा राजकीय कल्पवास मेला, जिला प्रशासन ने साधु संतों के साथ की मीटिंग

आस्था खबरें बिहार की

गया में आदि कुंभस्थली सिमरिया धाम गंगातट पर इस साल 9 अक्टूबर से 17 नवम्बर तक राजकीय कल्पवास मेला लगेगा। इसकी तैयारी व विधि-व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन ने मंगलवार को मेला समिति व साधु-संतों के साथ बैठक की। मां गंगा सिमरिया घाट सेवा समिति के महासचिव रामजी झा ने बताया कि अब सिमरिया गंगानदी के जलस्तर में काफी कमी हो गई है। पूरे कल्पवास मेला क्षेत्र से बाढ़ का पानी भी निकल चुका है। इससे कल्पवास मेले की तैयारी में सहूलियत होगी।

आयोजित की जाएंगी 3 परिक्रमाएं
अखिल भारतीय सर्वमंगला परिवार के द्वारा राजकीय कल्पवास मेले में तीन वृहत परिक्रमा का आयोजन किया जाएगा। सर्वमंगला परिवार के व्यवस्थापक रविन्द्र ब्रह्मचारी ने बताया कि कल्पवास मेले की पहली परिक्रमा 21 अक्टूबर व दूसरी परिक्रमा 28 अक्टूबर तथा अंतिम परिक्रमा 6 नवम्बर को होगी।

बैरिकेडिंग और चेंजिंग रूम की सुविधा होगी उपलब्ध
सिमरिया मेला परिसर में श्रद्धालुओं को आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। घाटों पर बैरिकेडिंग की जाएगी। चेंजिंग रूम बनेंगे। चिकित्सीय सुविधा, परिसर की साफ-सफाई, शौचालय एवं पेयजल की व्यवस्था होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.