5 जिलों में लगेंगे बिजली के 26 लाख स्‍मार्ट प्रीपेड मीटर, ऊर्जा मंत्री बोले-देश को नई राह दिखा रहा बिहार

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के ग्रामीण क्षेत्रों में स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने का काम जल्द शुरू होगा। इसको लेकर गुरुवार को नॉर्थ बिहार पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड और सिक्योर मीटर्स लिमिटेड के बीच करार हुआ। करार के तहत उत्तर बिहार के पांच जिलों सीतामढ़ी, शिवहर, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण के ग्रामीण क्षेत्रों में तथा मुजफ्फरपुर के ग्रामीण और शहरी इलाकों में स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे। इन जिलों में 26 लाख स्मार्ट प्रीपेड मीटर 30 माह में लगाये जाएंगे।

बिहार में स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने के कार्य को दो चरणों में बांटा गया था। पहले चरण में शहरी क्षेत्रों में आठ लाख से ज्यादा स्मार्ट मीटर लगाकर बिहार इस मामले में देश में लगातार पहले स्थान पर बना हुआ है। गुरुवार को हुए इस करार से दूसरे चरण की शुरुआत होगी। इससे पहले 13 मई 2022 को दक्षिण बिहार के कई जिलों जैसे- भागलपुर शहर, बांका, जमुई और शेखपुरा के ग्रामीण क्षेत्रों में दस लाख स्मार्ट मीटर लगाने का करार जीनस पावर के साथ किया गया था ओर कार्य प्रगति पर है। स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने के साथ ही सिक्योर मीटर लिमिटेड एनर्जी ऑडिट भी करेगा।

पूरे देश को राह दिखा रहा है बिहार: बिजेंद्र

ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने की दिशा में बिहार पूरे देश को राह दिखा रहा है। आज का दिन ऐतिहासिक है, क्योंकि स्मार्ट मीटर लगाने के लिए अब तक का देश का यह सबसे बड़ा करार है। ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में स्मार्ट मीटर के प्रति उपभोक्ताओं की प्रतिक्रिया काफी सुखद और उत्साहजनक रही है। बिहार में अब तक आठ लाख 29 हजार स्मार्ट प्रीपेड मीटर लग चुके हैं। उम्मीद है कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी हमें लोगों का सहयोग मिलेगा। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में स्मार्ट प्रीपेड मीटर के विषय में उपभोक्ताओं के बीच जागरूकता बढ़ाने और स्मार्ट मीटर लगाने के लिए कुशल प्रबंधन करने का निर्देश दिया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.