ये 5 क्रिकेट खिलाड़ी फुटबॉल के मैदान में भी रहे हैं ‘सुपरहिट’ !

Other Sports

फीफा वर्ल्‍ड कप के 21वें संस्‍करण का रोमांच चरम पर है. इंग्‍लैंड के हैरी केन और पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो ने अपने दमदार प्रदर्शन से हर किसी का दिल जीत लिया है, तो लियोनल मेसी और नेमार के प्रशंसक ख़ासे निराश हैं. बहरहाल हम यहां कुछ ऐसे क्रिकेटर की बात कर रहे हैं, जिन्‍होंने क्रिकेट के अलावा अपने देश या फिर क्‍लब के लिए फुटबॉल खेली है.

विवियन रिचर्डस


सबसे पहले हम बात करते हैं कैरेबियाई दिग्‍गज विवियन रिचर्डस की, जो कि अपने देश के लिए चार बार (1975, 1979, 1983 और 1984) क्रिकेट वर्ल्‍ड कप खेल चुके हैं. वेस्‍टइंटीज का 121 टेस्‍ट और 187 वनडे में प्रतिनिधित्‍व करने वाले रिचर्डस 1975 क्रिकेट वर्ल्‍ड कप से पहले एक अच्‍छे फुटबॉलर थे. उन्‍होंने 20 साल की उम्र में 1974 में एंटिगुआ की तरफ से फुटबॉल वर्ल्‍ड कप क्‍वालीफाई मैच में हिस्‍सा लिया था. जबकि वह इंग्लैंड के क्लब बाथ एफसी और मिनेहेड एसोसिएशन एफसी के लिए भी फुटबॉल खेल चुके थे. हालांकि बाद में उन्‍होंने क्रिकेट को अपना पेशा बना लिया और आज हर कोई उनकी हैसियत से परिचित है.

इयान बॉथम


इंग्‍लैंड में क्रिकेट से कहीं ज्‍़यादा दीवानगी फुटबॉल की दिखाई देती है और इसका असर क्रिकेटर्स पर बखूबी देखने को मिलता है. महान इंग्लिश ऑलराउंडर इयान बॉथम ने 1979 से 1985 के बीच येओविल टाउन और स्कनथोर्प युनाइटेड क्लब के लिए 11 मैच खेले थे. टेस्‍ट और वनडे क्रिकेट में 7000 से अधिक रन और 500 से अधिक विकेट लेने वाले बॉथम क्रिकेट के महान खिलाड़ी हैं.

माइक गेटिंग


इंग्लिश क्रिकेट में माइक गेटिंग का एक अलग रूतबा रहा है. 79 टेस्‍ट और 92 वनडे खेलने वाले इस धाकड़ क्रिकेटर ने बेटफोर्ड क्‍लब के लिए रिजर्व के रूप में फुटबॉल के मैदान पर उतरने का मौका हासिल किया था. हालांकि उन्‍होंने अपने पहले प्‍यार के रूप में क्रिकेट को चुना और यही उनकी पहचान है.

डेनिस कॉम्‍पटन


इंग्‍लैंड के लिए 78 टेस्‍ट में 17 शतक और 28 अर्धशतक की मदद से 5807 रन बनाने वाले डेनिस कॉम्‍पटन अपनी पहली टीम आर्सेनल के लिए कई वर्षों तक फुटबॉल खेल थे. इसके बाद उन्‍होंने नुनहेड एपफसी गुनर्स का हाथ थामा और 1948 में लीग खिताब व 1950 में एफए कप भी जीतने में अहम भूमिका निभाई. हालांकि वह इंग्लैंड के लिए भी 16 फुटबॉल मैच खेल चुके हैं, लेकिन इनमें से कोई भी आधिकारिक अंतरर्राष्ट्रीय मैच नहीं था.

ये महिला खिलाड़ी भी पीछे नहीं…


पुरूष खिलाड़ियों के अलावा एक महिला खिलाड़ी भी ऐसी है, जिसने फुटबॉल में अपने जौहर दिखाए हैं. ऑस्‍ट्रेलिया के लिए सात टेस्‍ट, 97 वनडे और 90 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेलने वाली एलिसी पैरी ने फुटबॉल में अच्‍छा ख़ास नाम कमाया है. इस दमदार खिलाड़ी ने 16 साल की उम्र में 2007 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्‍यू किया था, लेकिन कुछ दिन बाद ही उन्हें ऑस्ट्रेलियाई महिला फुटबॉल टीम की ओर से बुलावा आ गया. पैरी ने 2011 में फीफा महिला विश्व कप के क्वार्टर फाइनल मैच में जर्मनी के खिलाफ शानदार गोल भी किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.