35 साल के नीशीथ प्रामाणिक बने मोदी सरकार के सबसे युवा मंत्री, प्राथमिक विद्यालय में टीचर से अब बने केंद्रीय मंत्री

राजनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए मंत्रिमंडल में पश्चिम बंगाल के 4 सांसदों शांतनु ठाकुर, जान बॉरला, डॉ. सुभाष सरकार और निशीथ प्रमाणिक को स्थान दिया गया है. तीनों सांसदों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बीते कल गोपनियत की शपथ दिलाई. लेकिन इन सबमें एक नाम जो चर्चा में हैं वह है निशीथ प्रमाणिक का.

निशीथ प्रमाणिक को केंद्रीय राज्यमंत्री बनाया गया है. निशीथ चर्चा में दरअसल अपनी उम्र के कारण हैं. निशीथ की उम्र मात्र 35 साल है और वह मोदी कैबनिटे के सबसे युवा चेहरे हैं. प्रामाणिक दो साल पहले 2019 में तृणमूल कांग्रेस में थे। लोकसभा चुनावों से पहले टीएमसी का दामन छोड़कर उन्‍होंने बीजेपी का झंडा थाम लिया था। निशीथ प्रमाणिक साल 2019 में भाजपा के टिकटक पर बंगाल के कूच बिहार से सांसद हैं. अब वह नरेंद्र मोदी कैबिनेट में शामिल होने वाले सबसे युवा मंत्री बन गए हैं। राष्‍ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में नीशीथ प्रमाणिक ने मंत्री पद की शपथ ले ली है।

बता दें कि सांसद होते हुए भी भाजपा ने इस बार बंगाल विधानसभा चुनाव में निशीथ प्रमाणिक को दिनहाटा से चुनाव लड़ाया था और वह विधानसभा चुनाव में जीते भी थे. लेकिन पार्टी नेतृत्व के निर्देश के बाद उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया. निशीथ प्रमाणिक का राजवंशी समुदाय पर काफी प्रभाव है. वह खुद भी राजवंशी समुदाय से आते हैं. बता दें कि उत्तर बंगाल में भाजपा के विस्तार के पीछे निशीथ प्रमाणिक का अहम योगदान माना जाता है.

निशीथ एक प्राथमिक स्कूल में शिक्षक रह चुके हैं और बीसीए की उन्होंने पढ़ाई की है. उनका जन्‍म 17 जनवरी, 1986 को जलपाईगुड़ी में हुआ है। उनकी पत्‍नी का नाम प्रियंका हैं। उनके दो बच्‍चे हैं। नीशीथ प्रमाणिक केंद्रीय सूचना टेक्‍नॉलजी स्‍टैंडिंग कमिटी के सदस्‍य हैं। इसके अलावा सामाजिक न्‍याय और आधिकारिता मंत्रालय की समिति में भी सदस्‍य हैं।

नए मंत्रिमंडल से बंगाल से दो मंत्रियों की छुट्टी कर दी गई है. बाबुल सुप्रियो इससे पहले राज्य मंत्री थे. बता दें कि बाबुल सुप्रिया आसनसोल से सांसद हैं. इनके पास भारी उद्योग औऱ सार्वजनिक उपक्रम का कार्यभार था. वहीं देबश्री चौधरी रायगंज से भाजपा की सांसद हैं. इनके पास महिला कल्याण और बाल कल्याण राज्य मंत्री का दर्जा था. लेकिन मोदी कैबिनेट के विस्तार से पहले दोनों सांसदों ने इस्तीफा दे दिया है.

नीशीथ प्रामाणिक के अलावा मोदी मंत्रिमंडल में कई अन्‍य युवा चेहरे भी मंत्री बने हैं। इनमें 38 साल के शांतनु ठाकुर, 40 वर्षीय अनुप्रिया सिंह पटेल, 42 साल के भारती प्रवीण पवार, 44 साल के एल मुरुगैन और 45 वर्षीय जॉन बारला का नाम प्रमुख है। नीशीथ प्रामाणिक, शांतनु ठाकुर और जॉन बॉरला तीनों पश्चिम बंगाल से ही सांसद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.