क्या आपने देखा है कभी एक साथ 337 दूल्हों की बारात ???

कही-सुनी

मंगलवार की सुबह शास्त्रीनगर सेंटर पार्क का अद्भुत नजारा था, शायद कानपुर के लिए यह रिकार्ड भी था जब 337 दूल्हे एक साथ अपनी बारात लेकर निकले। 328 वेदियों में बैठकर हिन्दू दूल्हा-दूल्हन ने मंत्रों के सथ शादियां रचायीं तो नौ जोड़ों का निकाह इन्हीं शादियों के बीच हुआ। कमिश्नर, डीएम से लेकर शहर के सारे आला अफसर नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देने के लिए मौजूद थे।

सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन श्रम विभाग की तरफ से किया गया। एक साथ दूल्हे जब बारात लेकर दाखिल हुए सारे अफसरों ने खुद उनका स्वागत किया, टीका लगाकर और माला पहनाकर उन्हेंने वेदियों तक ले जाया गया।

पंडालों से दूल्हनोॆं को यहां पहुंचाया गया और फिर मंत्रोच्चारण के साथ एक साथ शादी की सारी रस्में पूरी की गयीं। सेन्टर पार्क पर दस हजार लोगों के लिए इंतजाम किया था। इसमें से बारातियों और जनातियों को मिलाकर 7 हजार लोगों के लिए खाने का इंतजाम किया गया था।

श्रम विभाग के अलावा तमाम लोगों ने नए जोड़ों को खूब तोहफे दिए। सरकार की ओर से वह सारा सामान दिया गया जो एक नई गृहस्थी बसाने के लिए जरूरी होता है। परिवार और नाते रिश्तेदारों ने अलग से तोहफे दिए और सभी ने सुखी जीवन की कामना की।

मेयर प्रमिला पाण्डेय, कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, मनोहरलाल दोपहर बाद समारोह स्थल पर पहुंचे और नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। स्वामी प्रसाद मौर्य और खई अन्य मंत्री भी शादी समारोह में पहुंच रहे हैं।

प्रशासन ने सादी वर्दी में पुलिस तैनात की गयी थी ताकि शादी के माहौल में खाकी खराब न लगे लेकिन सुरक्षा भी पूरी बनी रहे। इतनी बड़ी संख्या में लोगों की मौजूदगी और एक साथ इतनी शादियों को देखते हुए हर अफसर चौकन्ना रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.