बिहार के इन 8 जिलों की 306 किमी सड़क होगी चौड़ी

खबरें बिहार की

राज्य में छह स्टेट हाइवे के चौड़ीकरण का काम अगले साल मार्च से पहले शुरू हो जायेगा। सड़क के चौड़ीकरण को लेकर उसके टेंडर की प्रक्रिया दिसंबर तक शुरू होगी।

 

306 किलोमीटर स्टेट हाइवे को टू लेन यानी सात मीटर चौड़ा बनाने से आठ जिले मधेपुरा, भागलपुर, नवादा, जमुई, बांका, भोजपुर व पश्चिमी चंपारण में सुविधा बढ़ेगी।

स्टेट हाइवे में संख्या 58 उदाकिशुनगंज-विजयघाट रोड, 82 कादिरगंज-सोन्हो रोड, 84 घोघा-बरहट रोड, 85 अकबरनगर-अमरपुर रोड, 102 बिहिया-जगदीशपुर-पीरो-बिहटा व 105 बेतिया-भीखनाटोढ़ी रोड शामिल है।

सड़क के चौड़ीकरण का काम एशियन डेवलपमेंट बैंक के सहयोग से होना है। एडीबी के सहयोग से चौड़ीकरण को लेकर संबंधित सड़कों के बारे में सभी कागजात एडीबी को भेजे गये हैं, ताकि एडीबी से हरी झंडी मिलने पर चौड़ीकरण के लिए टेंडर सहित अन्य प्रक्रिया पर काम शुरू किया जा सके। अभी ये सड़कें कहीं साढ़े तीन, तो कहीं साढ़े पांच मीटर चौड़ी हैं।

एडीबी से मिलेगा 1268 करोड़ ऋण

स्टेट हाइवे को टू लेन यानी सात मीटर चौड़ा बनाने में होनेवाले खर्च में एडीबी सहयोग करेगा। सड़क निर्माण में होनेवाले कुल खर्च में एडीबी से 70 फीसदी ऋण मिलेगा। शेष 30 फीसदी राशि बिहार सरकार देगी। छह स्टेट हाइवे के टू लेन निर्माण पर लगभग 1812 करोड़ खर्च होंगे।

इसमें एडीबी से लगभग 1268 करोड़ लोन मिलेगा, जबकि लगभग 544 करोड़ बिहार सरकार खर्च करेगी। बिहार राज्य पथ विकास निगम के आधिकारिक सूत्र ने बताया कि संबंधित सड़कों का ब्योरा एडीबी मुख्यालय को भेजा गया है।

इसमें उक्त सड़कों के चौड़ीकरण में जमीन अधिग्रहण की स्थिति, कंसलटेंट की नियुक्ति, बीड की प्रक्रिया सहित अन्य वे सारी चीजों की जानकारी एडीबी को दी गयी है।

सड़कों के चौड़ीकरण के लिए 50 फीसदी से अधिक जमीन उपलब्ध है। निगम के आधिकारिक सूत्र ने बताया कि मार्च से पहले सारी प्रक्रिया पूरी कर सड़क निर्माण का काम शुरू होना है। इसलिए दिसंबर तक टेंडर की प्रक्रिया शुरू होगी।

उक्त सड़कों को सात मीटर चौड़ा बनाने में कांट्रैक्टर के साथ काम का एग्रीमेंट करने के बाद ढाई से तीन साल में काम पूरा हो जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.