शिखर धवन (Shikhar Dhawan) आईसीसी प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम के लिए सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं. उन्होंने देश के लिए खेले अब तक के सभी बड़े टूर्नामेंट में दमदार प्रदर्शन किया और अब वह 30 मई से इंग्लैंड एंड वेल्स में होने वाले आगामी विश्व कप (World Cup 2019) के लिए तैयार हैं. टीम को सफलता दिलाने के लिए विश्व कप में एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर धवन को रोहित शर्मा के साथ बेहतरीन साझेदारी करनी होगी. हालांकि, यह काम उनके लिए मुश्किल हो सकता है, क्योंकि वह पिछले एक महीने से इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में दिल्ली कैपिटल्स के लिए युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ के साथ पारी की शुरुआत कर रहे थे.

यह पूछे जाने पर कि क्या आगामी टूर्नामेंट से पहले वह रोहित से लगातार बातचीत कर रहे हैं? धवन ने कहा कि कहा कि रोहित मेरी पत्नी नहीं है, जो मैं हमेशा उनसे बात करता रहूं. धवन ने कहा, “बातें करके क्या होगा? रोहित मेरी बीवी थोड़ी है. अगर आप किसी के साथ वर्षों तक खेलते हैं तो आप उन्हें अच्छे से जान जाते हैं. रोहित के साथ, हम कुछ विशेष नहीं करते. पृथ्वी के साथ बल्लेबाजी करते हुए भी यही चीज होती है. अगर एक खिलाड़ी तेजी से रन बना रहा है तो दूसरे को उसका साथ निभाना होगा.”

दबाव किस बात का?
बड़े टूर्नामेंट में खेलने से पहले अपने ऊपर पड़ने वाले दबाव पर धवन ने कहा, “दबाव किस बात का? यह मेरा रोज का काम है. मैं सुनिश्चित करता हूं कि मैं आम बातों का ध्यान रखूं और मेरा दिमाग हमेशा साफ रहता है. कभी-कभी आप रन बनाते हैं, कभी-कभी ऐसा नहीं हो पाता. लेकिन मैं हमेशा शांत रहता हूं, उन चीजों पर ध्यान देता हूं जिस पर मुझे काम करना है और फिर अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करता हूं. मैं ज्यादा चिंता करने पर विश्वास नहीं करता.”

IPL में जड़े 521 रन
आईपीएल का 12वां सीजन धवन के लिए शानदार रहा. उन्होंने दिल्ली के लिए 16 मैचों में दमदार बल्लेबाजी करते हुए कुल 521 रन जड़े, जिसमें पांच अर्धशतक भी शामिल हैं. उनका मानना है कि आईपीएल का शानदार फॉर्म उन्हें आगामी टूर्नामेंट में अच्छी स्थिति में रखेगा. वह यह भी मानते हैं कि टी-20 से सीधा वनडे प्रारूप में आकर खेलना उनके लिए कोई बड़ी चुनौती नहीं है.

यह सीजन रहा पॉजिटिव
धवन ने कहा, “यह सीजन बहुत सकारात्मक रहा है क्योंकि अगर आप अच्छा करते हैं तो आप अच्छी लय में आ जाते हैं. आईपीएल के अलावा, मैंने आस्ट्रेलिया के खिलाफ भी अच्छा प्रदर्शन किया. प्रारूप को बदलने की कोई चुनौती नहीं है क्योंकि यह सब कुछ मानसिकता से जुड़ा हुआ है और चीजें बदलने में एक मिनट का समय लगता है. हम विश्व कप के लिए किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं.”

यह टीम बहुत संतुलित है
धवन ने भारत के गेंदबाजी के बारे में कहा, “हमारे पास जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी के रूप में बेहद मजबूत गेंदबाजी क्रम मौजूद है. इसके अलावा, हमारे पास हार्दिक पांड्या भी हैं जो एक अच्छे गेंदबाज हैं. हमारी गेंदबाजी बहुत संतुलित है और यह चीज निश्चित रूप से टीम की मदद करेगी. बुमराह वर्तमान में नंबर-1 गेंदबाज हैं और फिर हमारे पास शानदार स्पिनर भी हैं. मुझे लगता है कि यह टीम बहुत संतुलित है.”

कोहली और धोनी की तारीफ
धवन मानते हैं कि विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी और उनके जैसे अनुभवी खिलाड़ी टीम को मुश्किल हालात से निकालने के काम कर सकते हैं. धवन ने कहा, “जब आप किसी बड़े टूर्नामेंट में नई प्रतिभाओं के साथ जाते हैं तो आपको अनुभव की भी जरूरत होती है और मैं मानता हूं कि हमारे पास इसका सही मिश्रण है. हमारे पास कोहली, धौनी, रोहित और मेरे जैसे खिलाड़ी हैं और साथ ही साथ हमारे पास कई बेहद प्रतिभाशाली युवा भी हैं.”

Sources:-Zee News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here