लोकतंत्र के महापर्व का उत्साह रविवार को खूब दिख रहा है। धूप से बेपरवाह लोग घरों से निकलकर मतदान कर रहे हैं। इस दौरान कई मतदान केंद्रों पर ठीक शादी के दिन मतदान करने बेटियां पहुंची। कई बेटियों ने तो शादी के दिल बाबुल का घर छोड़ने से पहले वोट देकर मजबूत लोकतंत्र के स्थापना की मुनादी की है।


शादी के पहले वोट देने पहुंचीं शिवहर की सोनी

शिवहर लोकसभा क्षेत्र के ढाका विधान सभा के मतदान केंद्र संख्या-14 पर घोड़ासहन निवासी राजकुमार गुप्ता की पुत्री सोनी गुप्ता ने वोट किया। सोनी की शादी रविवार को ही होनी है। ऐसे में सोनी जब मतदान केंद्र पहुंची तो लोगों को अपने क्षेत्र की इस बेटी पर गर्व हुआ। सोनी ने कहा कि मतदान लोकतंत्र की रक्षा के लिए जरूरी है। यह समानता का अधिकार है। वोट देकर ही बाबुल घर से विदा होना है।

अंजली ने शादी के जोड़े में सजने से पहले किया मतदान
पूर्वी चंपारण के कल्याणपुर प्रखंड मुख्यालय के तुलसीपट्टी बूथ संख्या 158 पर धनंजय सिह की बेटी अंजली कुमारी ने शादी के जोड़े में सजने से पहले वोट किया। रविवार की शाम में ही इनकी बारात आएगी। अंजली ने कहा कि सबसे पहले वोट के अधिकार का प्रयोग करना जरूरी है। शादी शाम में विधि-विधान से होगी। लेकिन, मजबूत सरकार बनाने में मेरा एक वोट सहायक होगा। उन्‍होंने कहा कि शादी तो है, लेकिन मतदान भी जरूरी है। पहले मतदान, फिर सिंदूरदान होगा।

अंजलि के परिजनों के अनुसार बारात आज ही मुजफ्फरपुर के राजेपुर से आने वाली है। शादी की व्‍यस्‍तताओं में से वक्‍त निकाल कर पूरे प‍रिवार ने वोट डाला। अंजलि के चाचा सियावर सिंह ने कहा कि मतदान के बाद ही परिवार में कन्‍यादान की रस्‍म अदा की जाएगी।


दूल्‍हे भी नहीं रहे पीछे
मतदान को लेकर दूल्‍हों का उत्‍साह भी कम नहीं रहा। पूर्वी चंपारण लोकसभा के मोतिहारी विधानसभा के मतदान केंद्र संख्या-121 पर शहर के शांतिपुरी निवासी कर्ण कुमार ने अपनी बरात सजाने से पहले वोट किया। कहा- वोट का अधिकार पहले लेना है। पहले लोकतंत्र के महायज्ञ में शामिल होंगे इसके बाद ही अपनी बारात लेकर बहू को लाने जाएंगे।

Sources:-Dainik Jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here