पटना: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के छोटे ‘लाल’ का कल यानि 9 नवम्बर को जन्मदिन है। दूसरी तरफ लालू के बड़े लाल तेजप्रताप यादव परिवार से रूठे हुए हैं। ऐसे में लालू परिवार और उनके समर्थकों को यही इंतजार है कि क्या अपने छोटे भाई के जन्म दिन पर तेजप्रताप पटना आएंगे ? क्योंकि पिछले साल तेजस्वी के जन्मदिन के मौके पर उनके बड़े भाई तेजप्रताप ने पटना से सिद्धपीठ छोटी पटन देवी मंदिर में अपने छोटे भाई की सलामती और लंबी आयु के लिए विशेष पूजा अर्चना की थी।

पिछले साल सिद्ध शक्तिपीठ छोटी पटन देवी पहुंचने के बाद तेज प्रताप ने सबसे पहले अपने भाई तेजस्वी के 28वें जन्मदिन के मौके पर 28 दीपों की महाआरती की थी। उसके बाद उन्होंने मंदिर परिसर के अंदर ही गौ सेवा की और वृंदावन से लाए तुलसी के पौधे को मंदिर को भेंट किया था। इसके साथ ही  तेज प्रताप यादव ने कहा था कि उन्होंने सिद्ध शक्तिपीठ पटन देवी मंदिर में तेजस्वी के सुख शांति और समृद्धि की मनोकामना की है।

छोटी पटन देवी मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद तेजप्रताप ने कहा था कि मुझे उम्मीद है कि बहुत जल्द तेजस्वी के ऊपर आई मुश्किलों का दौर खत्म होगा और मां पटन देवी तेजस्वी के सभी मुश्किलें हर लेंगी। छोटी पटन देवी मंदिर में पूजा अर्चना करने से पहले रात 12 बजे तेज प्रताप ने तेजस्वी के साथ मिलकर बर्थडे केक भी काटा था।

लेकिन इस बार परिस्थितियां पहले जैसी नहीं हैं। छह महीने पहले ऐश्वर्या राय से शादी के बाद तेजप्रताप यादव उनसे तलाक चाहते हैं और इसके लिए उन्होंने परिवार न्यायालय में तलाक की अर्जी दी है, जिसके बाद लालू परिवार के साथ ही एेश्वर्या राय के पिता चंद्रिका राय का परिवार भी सकते में है।

तलक की अर्जी डालने के बाद से तेजप्रताप घर नहीं लौटे हैं। सबको आस थी कि वे दिवाली में घर लौटेंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ। ऐसे में अब देखना ये है कि जिस भाई को तेजप्रताप दिलो-जान से ज्यादा प्यार करते हैं, अपने कलेजे का टुकड़ा मानते हैं उस छोटे भाई को सरप्राइज देने नौ नवंबर को पटना लौटते हैं या नहीं। बता दें कि लालू परिवार और दोनों भाईयों के बीच कभी भी विवाद की बात हुई तो तेजप्रताप ने आगे आकर उसका जवाब दिया और कहा कि मैं बड़ा भाई हूं और अपने छोटे भाई तेजस्वी पर कोई आंच नहीं आने दूंगा।

Source: Satyodaya

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here