टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली पहले ऐसे खिलाड़ी नहीं हैं, जो अपनी हेल्थ और फिटनेस के लिए शाकाहारी बने हैं. रिपोर्ट्स के अनुसार विराट कोहली पिछले कुछ माह से शाकाहारी हो गए हैं. उन्होंने एनिमल प्रोटीन से दूर रहने का फैसला किया है. अपनी फिटनेस और अपने जुनून के लिए जाने जाने वाले कोहली का मानना है कि शाकाहार ने उन्हें और मजबूत बनाया है. शाकाहार अपनाने वाले कोहली अकेले या पहले खिलाड़ी नहीं है. बहुत से एथलीट भी आज शाकाहार को अपनी जीवन शैली और फिटनेस का राज बता रहे हैं. आइए नजर डालते हैं कुछ शाकाहारी एथलीट्स पर :-

लुईस हैमिल्टन


विराट कोहली की ही तरह चार बार फॉर्मूला वन वर्ल्ड चैंपियन लुईस हैमिल्टन अब शाकाहारी बन गए हैं. शाकाहार को अपनाने के बाद 2017 में उन्होंने चौथा वर्ल्ड टाइटल जीता. लुईस हैमिल्टन हेल्दी लाइफस्टाइल को प्रमाेेट करने और एनीमल्स को नुकसान न पहुंचाने के लिए ही शाकाहारी बने हैं.

वीनस विलियम्स


टेनिस स्टार वीनस विलियम्स ने 2011 में सिजोर्न सिंड्रोम डायग्नोस होने और डाक्टरों की सलाह के बाद शाकाहार की तरफ रुख किया. डाक्टरों ने उन्हें सलाह दी थी कि इससे उन्हें थकान और जोड़ों में दर्द जैसी शिकायतें नहीं होंगी. बाद में विलियम्स ने बताया कि शाकाहारी डाइट बहुत सी संभावित बीमारियों को रोकने में मदद की.

कॉलिन काइपरनिक


कॉलिन काइपरनिक को अमेरिकन बास्केटबॉल लीग (एनएफएल) में नील डाउन (राष्ट्रगान के दौरान घुटने टेककर बैठना) कैंपेन शुरू करने के लिए जाना जाता है. अमेरिका के काइपरनिग ने अश्वेत नागरिकों के अधिकार के लिए 2016 में यह अभियान शुरू किया था. मैदान पर बेहद आक्रामक खेल के लिए पहचाने जाने वाले काइपरनिक शाकाहारी भी है.

जर्मेन डीफो


इंग्लैंड के सबसे सफल खिलाड़ियों में गिने जाने वाले डीफो ने कहा कि उनके खेल में मीट और दूसरे जानवरों के उत्पाद छोड़ने के बाद बहुत सुधार हुआ.

ऑस्टिन अराइज


पेशेवर रेसलर और पूर्व डब्ल्यूडब्ल्यूई स्टार ऑस्टिन अराइज भी शाकाहारी हैं. उन्होंने अपनी शाकाहारी जीवन शैली में एक किताब भी लिखी है. आस्टिन बेशक शाकाहारी हैं लेकिन वह नियमित रूप से प्रतिदिन 3000 कैलोरीज लेते हैं.

माइक टायसन


अमेरिकी बॉक्सर माइक टाइसन 2013 में शाकाहारी बने. वह कहते हैं कि वेज डाइट ने ही मुझे दोबारा हेल्दी लाइफ जीने का अवसर मुहैया कराया. मुझे सांस लेने में तकलीफ होने लगी थी. ब्लड प्रेशर बढ़ गया था. मुझे आर्थराइटिस की समस्या थी, मुझे लग रहा था कि मर जाऊंगा, लेकिन एक बार शाकाहारी बनने के बाद मेरी सारी शक्तियां वापस लौटने लगीं.

डेविड हे


बॉक्सर डेविड हे 2014 में पूरी तरह शाकाहारी बने. वह कहते हैं कि मैंने टीवी पर एक डॉक्यूमेंटरी देखी कि किस तरह जानवरों को पकड़ा जाता है, मारा जाता है और उनका मांस तैयार किया जाता है. मैंने देखा कि सुअरों, गायों की हत्या की जा रही है. यह सब भयानक था. और मैं शाकाहारी हो गया. शाकाहारी डाइट आपको 20 गुणा ज्यादा ताकत देती है.

Source – Zee News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here