भारत से करोड़ों कर्ज लेकर फरार हुए शराब कारोबारी विजय माल्या ने कहा है कि वो जल्द ही सभी हिसाब चुकता कर देंगे। माल्या आज भारतीय बैंकों के कर्ज मामले में सुनवाई के लिए कोर्ट पहुंचे। यहां न्यायाधीश भारतीय अधिकारियों द्वारा मुंबई जेल में माल्या के लिए की गई तैयारी के वीडियो की समीक्षा हो रही है। इससे पहले जुलाई में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत की न्यायाधीश एमा अर्बुथनाट ने माल्या के संदेहों को दूर करने के लिए भारतीय अधिकारियों से ऑर्थर रोड जेल की बैरक नंबर 12 का सिलसिलेवार वीडियो जमा करने को कहा था।

इस दौरान माल्या ने कहा कि ‘मैंने मामले के पूरी तरीके से सेटलमेंट के लिए कर्नाटक कोर्ट में अपील की है और मुझे उम्मीद है कि माननीय जज इसको ध्यान में रखते हुए मेरे पक्ष में फैसला सुनाएंगे। सभी का हिसाब चुकता कर दूंगा और मुझे लगता है यही अहम मकसद है।” माल्या के वकील ने कहा कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि माल्या या किंगफिशर ने बुरे इरादे से बैंक ऋण के लिए आवेदन किया।

बता दें कि माल्या पर भारत में करीब 9000 करोड़ रूपये के धोखाधड़ी का आरोप है। 62 साल के माल्या किंगफिशर एयरलाइन के प्रमुख हैं और पिछले साल अप्रैल में जारी प्रत्यर्पण वारंट के बाद से जमानत पर है। भारत सरकार की तरफ से क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस (सीपीएस) ने जिरह की थी और वीडियो को अदालत में जमा करने के लिए रजामंदी जताई थी। वीडियो अदालत में जमा कर दिया गया, जिसके बाद आज कोर्ट की कार्यवाही की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here