पटना: ये बिहार की मिट्टी में ऐसा है कि अगर कोई बिहारी कुछ चाह ले तो वो उसे पूरा कर ही लेता है। एक बिहारी ने फिर से कुछ ऐसा ही काम कर दिखाया है। वैसे तो विधायक बनना अपने देश में भी एक बड़ी बात है लेकिन अगर कोई रूस जैसे देश में जाकर विधायक बन जाता है तो बड़ी बात होती है।

पटना जिले के रहने वाले अभय कुमार सिंह ने कुछ ऐसा ही कर दिखाया। वो रूसी प्रांत की सरकार का विधायक बन गए हैं। अभय रूस के कुर्स्क जगह से विधायक हैं। बताया जाता है कि वो रूस के डेप्यूतात बन गए हैं, रूस में डेप्यूतात का मतलब विधायक होता है।

इसमें सबसे बड़ी बात ये है कि अभय ने व्लादीमिर पुतिन की ‘यूनाइटेड रशा’ पार्टी के टिकट पर चुनाव जीता है। अभय ने एक इंटरव्यू में कहा कि मैं रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन से बहुत प्रभावित था जिस वजह से मैं उनकी पार्टी से टिकट लेकर चुनाव लड़ा और जीत भी गया।

आपको जानकारी हो कि रूस में ‘यूनाइटेड रशा’ सत्ताधारी पार्टी है। संसद में उनकी हिस्सेदारी फिलहाल 70 फीसदी है। अभय ने 2018 में हुए चुनाव के कुछ महीने पहले अक्तूबर, 2017 में व्लादिमीर पुतिन की पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर कुर्स्क विधानसभा का चुनाव जीत लिया था।

बिहार से आज भी उतना ही प्यार है जितना पहले था

अभय ने अपने इंटरव्यू में कहा कि उन्हें आज भी बिहार से उतना ही प्यार है जितन पहले था। वो आज भी चाहते हैं कि बिहार जाऊं। उन्होंने बताया कि मेरा जन्म पटना में हुआ है और मैं पटना के लोयोला स्कूल में पढ़ा हूं। बाद में डॉक्टरी की पढ़ाई करने के लिए मैं रूस चला गया। बाद में फिर से बिहार लौट आया और प्रैक्टिस करने के लिए रजिस्ट्रेशन भी करा लिया। उन्होंने बताया कि ऊपर वाला शायद मेरी किस्मत रूस में लिखा था इसलिए मैं फिर से यहीं आ गया और यहीं कारोबार करने लगा। पहले कुछ दिनों तक बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ा लेकिन बाद में फिर सब कुछ ठीक हो गया।

रूसी राष्ट्रपति पुतिन से प्रभावित अभय को इस बात पर “गर्व है कि भारतीय होने के बावजूद वे रूस में रम गए और आज वहां पर चुनाव भी जीत चुके हैं।” सबसे बड़ी बात ये है कि वो आज भी समय निकाल कर बिहार आना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here