पटना: पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में नदी पर बने लकड़ी के एक पुल के टूट जाने से कम-से-कम सात मेडिकल छात्रों की डूबने की वजह से मौत हो गई जबकि नौ अन्य लापता हैं। एक अखबार ने अधिकारियों के हवाले से कहा है कि फैसलाबाद और लाहौर के दो निजी कॉलेजों के करीब 25 विद्यार्थी नीलम घाटी के इस पुल पर फोटो लेने के लिए रुके लेकिन वह बोझ सह नहीं पाया और टूट गया।

पुलिस के अनुसार बचाव दल ने अबतक सात शव बरामद कर लिए हैं, जबकि बाकी पर्यटकों के बचाव के लिए तलाशी अभियान चल रह रहा है। ये विद्यार्थी कॉलेज ट्रिप पर थे। अधिकारियों के अनुसार पाकिस्तानी सेना के जवान बचाव एवं राहत अभियान में मदद पहुंचा रहे हैं। लेकिन नदी का बिल्कुल ठंडा पानी और उसकी तेज धार इस कार्य में बाधा डाल रही है।

अधिकारियों के हवाले से बताया गया है कि इस पुल की एक बार में अधिकतम चार लोगों का बोझ सहने की क्षमता थी और इस संदर्भ में वैधानिक चेतावनी भी दी गई थी। उसके बाद भी वहां अधिक पर्यटक पहुंच गए। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्बासी ने उपायुक्त को बचाव प्रयास में तेजी लाने का निर्देश दिया और यह सुनिश्चित करने को कहा कि लापरवाही के लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की जाए।

Source: live hindustan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here