200 किलो शंख से बना है ये पंडाल, देखने आ रहे हैं दूसरे राज्यों से लोग

आस्था

पटना : बंगाल के राधानगर रोड एथलेटिक क्लब की ओर से इस बार 64 वां दुर्गापूजा उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इस बार यहां काल्पनिक मंदिर की तर्ज पर दुर्गापूजा पंडाल का निर्माण किया जा रहा है, 200 किलो शंख का इस्तेमाल पूजा पंडाल में किया जा रहा है।

इस पूजा पंडाल के संबंध में बताया जाता है कि 22 लाख रुपये की बजट से निर्माण किया जाने वाले राधानगर रोड एथेलेटिक क्लब का दुर्गापूजा पंडाल के लिए मेदनीपुर के मां मनसा डेकोरेटर के रंजन गुचाईट द्वारा पंडाल का निर्माण किया जा रहा है। जिसमें शंख, झूनुक, प्लाई, शंख का चूर्ण आदि का इस्तेमाल हो रहा है। इसमें लगभग 200 किलो शंख का इस्तेमाल पंडाल को सजाने में किया जा रहा है। प्रतिमा को दुर्गापुर के अरुप पाल द्वारा बनाया जा रहा है, जबकि विद्युत की सजो- सज्जा को कृष्णनगर का किया जाएगा। बर्नपुर एबी टाईप पूजा कमेटी की ओर से भूटान की बौद्ध मंदिर के तर्ज पर दुर्गापूजा पंडाल बनाकर शांति का संदेश देना चाहता है। इसमें बौद्ध मंदिर की कलाकृतियों को बारीकी से सजाया जा रहा है।

एबी टाईप पूजा कमेटी की ओर से इस बार 38 वां दुर्गापूजा उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। वही पूजा पंडाल के निर्माण करने में पांच लाख रुपये का बजट है। इसमें मेदनीपुर की विष्णु डेकोरेटर की ओर से पंडाल का निर्माण किया जा रहा है। इस बार के पूजा पंडाल में भूटान की बौद्ध मंदिर के तर्ज पर पंडाल का निर्माण हो रहा है।

इसमें बांस, बांस का छाल, शीशा, घंटा, आदि का इस्तेमाल हो रहा है। वही प्रतिमा को कटवा के जीवन भाष्कर द्वारा निर्माण किया जा रहा है। विद्युत की साजो -सज्जा बर्नपुर की गणेश इलेक्टि्रकल द्वारा किया जा रहा है। वही पूजा कमेटी में अध्यक्ष निशीकांत कमार, सयुंक्त सचिव अमीत बाल्मिकी, देवनाथ चक्रवर्ती, उपाध्यक्ष अमल बनर्जी आदी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.