20 हजार रुपए लूटने कार से 214 KM दूर गए चार लुटेरे, फिर भी दो मिनट में पुलिस ने पकड़ लिया

खबरें बिहार की जानकारी

बीते दिनों लखीसराय में दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक की हसनपुर शाखा में एक महिला ग्राहक से 20 हजार रुपए के लूटकांड का खुलासा लखीसराय पुलिस ने गुरुवार को कर दिया है। एसपी पंकज कुमार ने अपने कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर पूरी कार्रवाई और अपराधियों के बारे में कई महत्वपूर्ण जानकारियां दीं। उन्होंने अपराधियों को चंपारण गैंग का सदस्य बताया और पूर्व में भी लखीसराय में इन अपराधियों के द्वारा अपहरण कर लूटकांड की घटना को अंजाम देने की बात कही है।

महिला से 20 हजार रूपये की लूट के मामले में बैंक प्रशासन ने अन्य लोगों के सहयोग से एक संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा कर पुलिस के हवाले किया था। पुलिस ने उक्त व्यक्ति के बारे में छानबीन की तो वह शातिर अपराधी निकला। अपराधी के पास मिले मोबाइल और उस मोबाइल पर हुई तुरंत के बातचीत के नंबरों को सर्विलांस पर रखा गया तो पता चला कि तीन अन्य अपराधी भी इस वारदात में शामिल थे, जो घटना को अंजाम देने के बाद बड़हिया के रास्ते भाग रहे थे। कबैया पुलिस ने तुरंत बड़हिया पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद बड़हिया पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए कार सवार तीनों अपराधियों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार अपराधियों के पास से लूटे गए 20 हजार रुपए बरामद कर लिए गए हैं

214 किलोमीटर कार चलाकर पैसे लूटने आये अपराधी 

एसपी पंकज कुमार ने बताया कि बैंक के पास से पकड़ा गया अपराधी पूर्वी चंपारण के केसरिया थाना क्षेत्र के चांद परसा निवासी शिव मंगल साह का 39 वर्षीय पुत्र कन्हैया साह है। वहीं उसकी निशानदेही पर पकड़े गए तीन अन्य अपराधियों में लखीसराय के कैलाश राय के 40 वर्षीय पुत्र चंदन राय, राजेंद्र साहनी के 35 वर्षीय पुत्र पंकज कुमार साहनी और पूर्वी चंपारण के ही पिपरा कोटी थाना क्षेत्र के बेलवतिया निवासी अंसारी मियां के 27 वर्षीय पुत्र कलामुद्दीन शामिल हैं। पिपरा कोटी से लखीसराय की दूरी 214 किलोमीटर है। पुलिस ने बताया कि अपराधी पिपरा कोटी से लखीसराय आये थे। पैसे लूटने के बाद अपराधी लौटकर वहीं पिपरा कोटी ही जाने वाले थे। लूटे गए 20 हजार रुपए के अलावा हुंडई कार, पांच मोबाइल, कन्हैया का आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पंकज का आधार कार्ड जब्त किया गया है।

लूट की कई वारदातों को दे चुके हैं अंजाम

एसपी ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि तीन माह पहले जून में मेदनीचौकी थाना क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक से 49 हजार रुपए की निकासी कर वापस जा रहे एक युवक से भी इन्हीं अपराधियों ने लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था। युवक को अपने वाहन में सवार कर इन्होंने रुपए छीने और मारपीट कर बाईपास के नजदीक फेक दिया गया था। उस घटना में अपराधियों ने हथियार का भी भय दिखाया था। मामला मेदनीचौकी थाना में दर्ज किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.