बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज दावा किया कि अगले वर्ष राज्य में एक दिन में दो करोड़ 51 लाख पौधे लगाये जाएंगे।

सुशील मोदी ने कहा कि पयार्वरण, वन व जलवायु परिवर्तन विभाग के अधिकारियों की कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि जहां इस साल वन महोत्सव के दौरान डेढ़ करोड़ पौधे लगाए गए हैं वहीं, वर्ष 2020 में एक दिन में दो करोड़ 51 लाख पौधा रोपण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इसके लिए नर्सरी में पांच करोड़ पौधे तैयार किए जायेंगे।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले तीन साल में जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत पूरे राज्य में वन विभाग द्वारा छह करोड़ एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा 1.7 करोड़ यानी कुल 7.7 करोड़ पौधारोपण तथा 50 हजार हेक्टेयर में चेक डैम और जल संरचनाओं के निमार्ण पर 2906 करोड़ रुपये खर्च होंगे। 

सुशील मोदी ने कहा कि जलवायु परिर्वतन की चुनौतियों से मुकाबला करने के लिए बिहार में ‘जल-जीवन-हरियाली’ अभियान का औपचारिक शुभारंभ 26 अक्टूबर से होगा। इस अभियान के तहत तालाब, पोखर, आहर-पईन, कुएं को चिन्हित कर अतिक्रमण मुक्त एवं जीणोर्द्धार करने, भवनों में वषार् जल संचयन, चापाकल, नलकूप के किनारे सोख्ता का निमार्ण, सौर ऊजार् को प्रोत्साहन तथा डीप इरिगेशन पर अगले तीन वर्षों में 24524 करोड़ तथा वर्ष 2019-20 में 5870 करोड़ रुपये खर्च किए जायेंगे।

उत्तर प्रदेश में ‘वृक्ष महाकुंभ’ के तहत एक दिन में 22 करोड़ पौधारोपण कर विश्व रिकॉर्ड बनाने की कार्ययोजना की चचार् करते हुए वहां के प्रधान मुख्य वन संरक्षक पवन कुमार ने बताया कि जिला वृक्षारोपण समिति के गठन के साथ ही 60 हजार पंचायतों की विस्तृत योजना तैयार कर किसे कितनी और किस प्रजाति के पौधे चाहिए, उसके नि:शुल्क वि तरण की व्यवस्था की गयी। पहले से पौधारोपण के लिए गड्ढे तैयार करवा लिए गए थे।

Sources:-Hindustan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here