13 जिलों में तेज हवा के साथ बारिश का पूर्वानुमान, तापमान में आएगी गिरावट; कुछ जगहों पर वज्रपात के आसार

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में मॉनसून ने इस साल किसानों को धोखा दिया। राज्य में मॉनसून काफी कमजोर पड़ा गया है जिससे बीते 21 दिनों में कहीं भी मूसलाधार बारिश नहीं हुई है। हालांकि, राज्य के अधिकतर भागों में हल्की बारिश हुई है। लेकिन, इससे फसलों को कोई फायदा नहीं मिला क्योंकि वर्षापात बहुत कम हुआ। इस बीच तेज धूप की वजह से फसलों को नुकसान तो हुआ ही, कई जिलों में सूखे की स्थिति बनी हुई है। दक्षिण-पश्चिम मानसून की रफ्तार धीमी पड़ जाने से मूसलाधार बारिश के आसार भी फिलहाल नहीं दिख रहे। इन हालातों में धान की फसल को भारी नुकसान हो रहा है। किसान अभी भी आकाश की ओर टकटकी लगाए हैं

इस बीच मौसम विभाग ने एक सुखद पूर्वानुमान किया है। राज्य के 13 जिलों में बारिश की संभावना जताई गयी है। 18 अगस्त तक इन जिलों में बारिश होगी। हालांकि, इन जिलों में अभी मुसलाधार बर्षा नहीं होगी। यहां मध्यम दर्जे की बारिश होगी जिससे खरीफ की फसल को थोड़ा सा फायदा मिलेगा। इन इलाकों में 35 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के आसार हैं। इससे गर्मी से लोगों को राहत मिलेगी।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार अरवल, औरंगाबाद, रोहतास, भभूआ, नालंदा, शेखपुरा, नवादा, बेगूसराय, बक्सर, भोजपुर, लखीसराय और जहानाबाद जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है। कहा गया है कि इन जिलों में कीं हल्की तो कहीं मौसम दर्जे की बारिश होगी। राज्य के उत्तरी भाग में एक दो स्थानों पर वज्रपात भी हो सकता है। रविवार को राज्य में बारिश हुई। शाम में काफी काले बादल आकाश में देखे गए। इससे बारिश तो हुई पर सभी स्थानों पर नहीं हुई। सर्वाधिक बारिश गया में रिकॉर्ड की गयी है जहां 55.7 मिमी बारिश दर्ज की गई।

राज्य के प्रमुख शहरों में रविवार को अधिकमत तापमान इस प्रकार रहा (डिग्री सेल्सियस)

पटना   33.2
गया   31.2
मुजफ्फरपुर  33.2
भागलपुर   34.7
औरंगाबाद   31.9
रोहतास   31.8
नवादा   31.9
जमुई   32.3
सीतामढ़ी  36.2
बांका    31.7
कटिहार   33.3
पूर्णिया   35.0

Leave a Reply

Your email address will not be published.