24 घंटे में मिले कोरोना के 12795 नए मरीज, 68 की मौत, नालंदा के DEO की पटना एम्स में मौत

खबरें बिहार की

पटना: बिहार में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थम नहीं रही है. पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोरोना के 12795 नए मरीज मिले हैं, वहीं इस अवधि में 68 मरीजों की मौत हो गई. वायरस संक्रमण बढ़ने से राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 87154 पर पहुंच गई है. सबसे ज्यादा मरीज राजधानी पटना से हैं, जिसकी संख्या 1848 है. वहीं, गया में 1340, औरंगाबाद में 682, मुजफ्फरपुर 472, वैशाली में 384, जहानाबाद में 373, पूर्वी चंपारण 266, पश्चिमी चंपारण में 347, मधुबनी में 314, समस्तीपुर में 438, बेगूसराय में 525, भागलपुर में 681 और सारण में 707 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं.

प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ने के बीच पटना एम्स से भी चौंकाने वाली खबर आई, जहां नालंदा के डीईओ की कोरोना से मौत हो गई. नालंदा के डीईओ मनोज कुमार पिछले 4 दिनों से पटना एम्स में भर्ती थे. पटना के अस्पतालों में भर्ती कोरोना मरीजों की मौत की बात करें तो पिछले 24 घंटों के दौरान नालंदा मेडिकल कॉलेज में जहां 11 मरीजों की जान चली गई. वहीं बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच में इसी अवधि के दौरान 7 कोरोना मरीजों ने दम तोड़ दिया.

आपको बता दें कि बिहार में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच राज्य सरकार आगामी 1 मई से टीकाकरण अभियान की तैयारियों में जुट गई है. केंद्र सरकार से मंजूरी मिलने के बाद बिहार में भी 1 मई से 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की है कि 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगवाया जाएगा. गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने इस आयुवर्ग के टीकाकरण अभियान के लिए निर्देश जारी कर दिए हैं. बताया गया है कि कोविन एप पर रजिस्ट्रेशन के बाद ही लोगों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *