12 साल में बना इस्कॉन मंदिर, कल होगी प्राण प्रतिष्ठा; एक साथ बैठ सकते हैं 5000 लोग, जानें मंदिर की खासियत

आस्था

बिहार की राजधानी पटना में 100 करोड़ की लागत से इस्कॉन मंदिर तैयार हो गया है। इसमें कल यानी तीन मई को प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इस मंदिर में 84 कमरे और 84 पिलर बनाए गए हैं। कल मंदिर का विधिवत उद्घाटन और प्राण प्रतिष्ठा होगी। उद्घाटन समारोह पांच दिन का होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इसके लिए आमंत्रित किया गया है। इसमें कई गणमान्य लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। वहीं कार्यक्रम मे हिस्सा लेने के लिए देश-विदेश से श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया है।

मंदिर की खासियत

यह मंदिर पटना के बुद्ध मार्ग पर स्थित है। इसमें राजस्थान से लाए गए मकराना का संगमरमर लगा है। मंदिर की ऊंचाई 108 फीट है और इसमें 84 खंभे हैं। दो एकड़ में बने श्री राधा बांके बिहारी जी के चार मंजिला मंदिर को सेमी अंडरग्राउंड बनाया गया है। इसमें एक भक्ति कला क्षेत्र है। पहले तल पर प्रसादम हॉल है, जहां एक साथ हजार लोग बैठकर प्रसाद ग्रहण कर सकते हैं। दूसरे तल पर बांके बिहारी का गर्भ गृह है। यहां एक तरफ राम दरबार तो दूसरी तरफ चैतन्य महाप्रभु का दरबार है।

300 गाड़ियों की पार्किंग

मंदिर में प्रसाद तैयार करने के लिए मॉडर्न किचन बनाया गया है। यहां अत्याधुनिक उपकरणों के साथ बांके बिहारी की लीलाओं को प्रदर्शित किया जाएगा। मंदिर पपरिसर में गोविंदा रेस्टोरेंट बनाया गया है। यहां लोगों को शुद्ध शाकाहारी भोजन मिलेगा। अतिथियों के ठहरने के लिए 70 कमरे बनाए गए हैं। मंदिर में 300 गाड़ियों की पार्किंग की व्यवस्था है। सुरक्षा के लिए 500 से जायादा सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। मंदिर में एक लाइब्रेरी है जिसमें आप स्वामी प्रभु पाद और वेद व्यास द्वारा लिखित ग्रंथों को पढ़ सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.