इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन के लिए कई अहम फैसले लिए गए हैं. नई दिल्ली में सोमवार को हुई अहम बैठक में बीसीसीआई अध्यक्ष  सौरव गांगुली  और आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन बृजेश पटेल के बीच ये तय किया गया कि इस बार आईपीएल 29 मार्च से शुरू होकर 24 मई तक चलेगा. इस सीजन का उद्घाटन और फाइनल मैच मुंबई के वानखेडे स्टेडियम में खेला जाएगा. बता दें कि आईपीएल 2019 का फाइनल मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर अपने नाम किया था.

इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत साल 2008 में हुई थी. ऐसे में अब 12 साल बाद इस लोकप्रिय टूर्नामेंट को नए कलेवर में लाए जाने की तैयारी कर ली गई है. यही वजह है कि इस बार इसमें चार बड़े बदलाव किए गए हैं. हालांकि रात के मैचों के समय में बदलाव की खबरें भी आ रहीं थीं, लेकिन फिलहाल उसमें किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की गई है. यही वजह है कि रात को होने वाले मैच आठ बजे से ही शुरू होंगे. आइए जानते हैं कि इस बार प्रशंसकों को आईपीएल में क्या बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे.
1. ऑल स्टार मैच

आईपीएल के इतिहास में पहली बार एक ऑल स्टार मैच आयोजित किया जाएगा. इसमें सभी आठों फ्रेंचाइजियों के खिलाड़ी शामिल होंगे. ये मैच आईपीएल के 29 मार्च को होने वाले पहले मुकाबले से तीन दिन पूर्व खेला जाएगा. माना जा रहा है कि ये मैच उत्तर व पूर्वी भारत की चार फ्रेंचाइजी किंग्स इलेवन पंजाब, दिल्ली कैपिटल्स, राजस्‍थान रॉयल्स और कोलकाता नाइटराइडर्स व दक्षिण और पश्चिम भारत की फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपरकिंग्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के खिलाड़ियों के बीच होगा. हालांकि ये मैच कहां आयोजित होगा, इस बारे में अभी तक कोई फैसला नहीं किया गया है. ये भी खबरें हैं कि इस मैच का विचार सौरव गांगुली और बृजेश पटेल के दिमाग की उपज है.

2. महिला टी20 एग्जीबिशन मैच
महिला आईपीएल की दिशा में छोटा लेकिन अहम कदम उठाते हुए इस बार बीसीसीआई ने चार टीमों के बीच एग्जीबिशन मैच कराने का फैसला किया है. आईपीएल के पिछले दो सीजन से महिला टी20 एग्जीबिशन मैच आयोजित किए जा रहे हैं, लेकिन इस बार बीसीसीआई ने चार टीमों को खिलाने का फैसला किया है. साल 2018 में सुपरनोवा और ट्रेलब्लेजर्स के बीच मैच आयोजित कराया था, जो आखिरी गेंद तक चला था. पिछले साल वैलोसिटी के नाम से तीसरी टीम जुड़ गई थी और कुल चार मैच खेले गए थे. इस बार इसमें एक और टीम जोड़ने का फैसला किया गया है. इस बार चार टीमों के बीच फाइनल समेत कुल 7 मैच होंगे.

3. नो बॉल देखेगा मैदान से बाहर का अंपायर
क्रिकेट की दुनिया तेजी से बदल रही है. यही वजह है कि पिछले साल से ही नो बॉल देखने का जिम्मा मैदान के बाहर के अंपायर को दे दिया गया था. खिलाड़ियों ने इसका स्वागत किया था, क्योंकि बीते समय में मैदानी अंपायरों से फैसले देने में काफी चूक हुई है. आईपीएल में भी अब इस नियम को लागू किया जा रहा है. पिछले सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ अहम मुकाबले के बाद अंपायरिंग के स्तर को बेहद खराब और क्लब स्तर का बताया था.

4. कन्कशन सब्सिट्यूट
आईपीएल गवर्निंग काउंसिल ने 2020 के सीजन में कन्कशन सब्सिट्यूट का नियम लागू करने का भी फैसला किया है. कन्कशन सब्सिट्यूट तय करने का अंतिम अधिकार मैच रेफरी के पास होगा.
हालांकि अभी तक टूर्नामेंट का शेड्यूल जारी नहीं किया गया है. हालांकि बीसीसीआई अधिकारियों ने इसके पीछे की कोई वजह नहीं बताई है, लेकिन माना जा रहा है कि इस हफ्ते के अंत तक शेड्यूल जारी कर दिया जाएगा. इसकी एक वजह ऑस्ट्रेलियाई, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों की अनुपलब्‍धता भी मानी जा रही है. क्योंकि इन तीनों टीमों के खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम के साथ प्रतिबद्धता के चलते 31 मार्च के बाद ही उपलब्‍ध हो पाएंगे.

SOURCE – NEWS 18

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here