पटना में बनेंगे 10 स्मार्ट पब्लिक ट्रांसपोर्ट स्टैंड, अब जहां-तहां नहीं रोक सकेंगे वाहन

खबरें बिहार की

Patna: बिहार की राजधानी पटना को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए शहर में एक और नई शुरुआत होने जा रही है. दरअसल पटना को स्मार्ट बनाने के लिए अब यहां 10 हाईटेक इंटरमीडिएट पब्लिक ट्रांसपोर्ट स्टैंड का निर्माण किया जा रहा है. इन स्टैंडों पर यात्रियों को शेड और बैठने की सुविधा तो मिलेगी ही, साथ ही यहां डस्टबिन, डिस्प्ले बोर्ड व अन्य इंतजाम भी किए जाएंगे. यह पूरा कार्य स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत किया जाएगा. इस बारे में अधिकारी जानकारी देते हुये स्मार्ट सिटी परियोजना की जनसम्पर्क अधिकारी हर्षिता ने बताया कि जल्द ही ये स्मार्ट पब्लिक ट्रांसपोर्ट स्टैंड पटना में दिखने लगेंगे. बस स्टैंड के शुरू होने से पटना के लोगों काफी लाभ मिलेगा. अब यात्रियों को स्टैंड पर ही सवारी गाडियां मिलेंगी.

उन्होंने बताया कि शहर के विस्तार के साथ-साथ बीते कुछ सालों में रिक्शा, ई-रिक्शा और ऑटो की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हुई है. अक्सर इन वाहन के चालकों द्वारा सड़क पर जहां-तहां वाहन रोककर यात्रियों को बिठाया जाता है और उतारा जाता है. इस तरह सड़क पर यातायात व्यवस्था बाधित होती है. साथ ही दुर्घटना की स्थिति भी बनी रहती है. इन वाहनों के लिए सड़क पर एक तय स्थान सुनिश्चित करना जरूरी हो जाता है. इसी उद्देश्य से पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा पूर्व निर्धारित एरिया बेस्ड डेवलपमेंट में कुल 10 स्थलों पर आईपीटी स्टैंड का निर्माण किया जा रहा है.

इन स्थलों पर मिलेगी स्मार्ट स्टैंड की सुविधा

मिली जानकारी के अनुसार पटना के जीपीओ गोलंबर, चिड़ैयाटाड़ ब्रिज, बिहार इंटरमीडिएट काउंसिल-1, बिहार इंटरमीडिएट काउंसिल-2, तारामंडल, गार्डिनर अस्पताल, बांस घाट, डीएम आवास गांधी मैदान, गेट संख्या-5 जमाल रोड इलाके में स्मार्ट वाहन स्टैंड की सुविधा शुरू की जाएगी. अब इन इलाकों में निर्धारित स्टैंड पर ही यात्रियों को बिठाया और उतरा जाएगा. स्मार्ट सिटी परियोजना की जनसम्पर्क अधिकारी का कहना है कि आईपीटी स्टैंड निर्माण कार्य पूर्ण होते ही ऑटो-रिक्शा चालकों द्वारा यहां-वहां वाहन रोक कर सवारी बैठाने-उतारने की आदत पर रोक लग जाएगी.

अब यात्रियों को होगी सहूलियत

जन संपर्क पदाधिकारी ने बताया कि जिन सड़कों पर आईपीटी स्टैंड होंगे, कम से कम उन सड़कों पर चलने वाले राहगीरों को सहूलियत होगी. साथ ही अन्य वाहनों का भी सुगम परिचालन सुनिश्चित होगा. परियोजना पूर्ण होने पर ऑटो, ई-रिक्शा, सिटी बस का इंतजार करते वक्त आम जन को शेड और बैठने की सुविधा भी मिलेगी. बता दें, पटना स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत बन रहे आईपीटी स्टैंड पर स्टील के डस्टबिन, सार्वजनिक बस के आवागमन से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने के लिए विशेष डिसप्ले बोर्ड, विज्ञापन के लिए एलईडी स्क्रीन लगे होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.