बिहार में पाँच साल में गंगा पर बनेंगे 10 नये पुल, घटेंगी दूरियां : नंदकिशोर यादव

खबरें बिहार की

पटना : बुधवार को प्रभात खबर के पटना कार्यालय पहुंचे पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि किसी देश या प्रदेश के विकास के लिए आधारभूत संरचनाओं का विकास अति आवश्यक है. इन चीजों को ध्यान में रखते हुए राज्य में सड़कों व पुल के निर्माण को लेकर सरकार विशेष ध्यान दे रही है.

उन्होंने कहा कि राज्य के किसी सुदूर क्षेत्र से पांच घंटे में पटना पहुंचने के लक्ष्य को पूरा करने पर गंभीरता से काम किया जा रहा है. मंत्री  ने बताया  कि गंगा नदी राज्य को दो भागों में बांटती है. अगले पांच साल में गंगा नदी पर दस नये पुलों का निर्माण होगा. गंगा नदी पर नये पुल का निर्माण होने से न केवल दूरियां घटेंगी,बल्कि सुविधा भी बढ़ेगी. इन पुलों का निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित विशेष पैकेज के अलावा राज्य सरकार अपने संसाधन से कर रही है.

गंगा नदी में  बक्सर में अगले माह में पुल का निर्माण शुरू होगा. मोकामा में चार माह में छह लेन पुल निर्माण की प्रक्रिया शुरू होगी. पटना में गांधी सेतु के समानांतर फोर लेन पुल निर्माण की स्वीकृति मिल गयी है. यह प्रधानमंत्री के विशेष पैकेज का हिस्सा है. उन्होंने कहा कि दीघा-सोनपुर पुल के समानांतर पुल का निर्माण होना है.

ताजपुर-बख्तियारपुर, कच्ची दरगाह-बिदुपुर छह लेन पुल, सुल्तानगंज-अगुवानी घाट पुल का निर्माण हो रहा है. भागलपुर में विक्रमशिला पुल के समानांतर एक नये पुल का निर्माण राज्य सरकार करायेगी.  मुंगेर रेल सह सड़क पुल का एप्रोच रोड तैयार कर उसे चालू किया जाना है. बिहार व झारखंड के बीच मनिहारी से साहेबगंज पुल का निर्माण होना है. मंत्री ने बताया कि पुलों का निर्माण होने से समय की बचत होने के साथ लोगों को सुविधा मिलेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.