मनेर से बंका घाट के बीच बनेगी 10 किमी फोरलेन सड़क, कंपनी का हुआ चयन

खबरें बिहार की

पटना: मास्टर प्लान 2031 की रूपरेखा जमीन पर उतरने के मुहाने पर है. पटना महानगर क्षेत्र प्राधिकार के गठन के बाद योजनाओं को मूर्त रूप दिया जाने लगा है.

मास्टर प्लान में पूरे क्षेत्र 1170 वर्ग किलोमीटर में दो प्रमुख सड़कों के जरिये यातायात की सुविधा बहाल की जायेगी. प्राधिकार ने  मनेर से लेकर बंका घाट तक दो प्रमुख सड़कों के निर्माण का खाका तैयार किया है. पहली सड़क 80 मीटर चौड़ी फोर लेन होगी, जो इलाहीबाद, बराइन नगर, नगवां, शिवाला, नौसा होकर जायेगी.

यह सड़क 42 किलोमीटर लंबी होगी. पहले फेज में 10 किमी का खाका तैयार हो रहा है. सर्वे व जमीन की उपलब्धता के लिए एजेंसी का चयन कर लिया गया है. एजेंसी 60 दिनों में ड्रोन सर्वे के बाद पिलरिंग का काम करेगी.  सड़क पर एक ही डक केबल में बिजली, पानी, केबल व गैस पाइप लाइन की व्यवस्था रहेगी. सर्वे व पिलरिंग में 50 हजार रुपये खर्च किये जायेंगे. वहीं दूसरी 60 मीटर चौड़ी टू लेन सड़क होगी, जो जेठुली होकर जायेगी. दोनों सड़कों का निर्माण पथ निर्माण विभागव महानगर क्षेत्र प्राधिकार करेगा. प्राधिकार ने इसकी डीपीआर तैयार कर ली है.

कंपनी का हो गया चयन

सड़क निर्माण के लिए सर्वे, ड्रोन मैपिंग व पीलरिंग के लिए कंपनी का चयन कर लिया गया है. पहले 10 किमी पर काम होगा, फिर 42 किमी तक फोर लेन सड़क के लिए कार्ययोजना तैयार की जायेगी.

सत्येंद्र कुमार सिंह, सहायक अभियंता, पटना महानगर क्षेत्र प्राधिकार
आईआईटी-एनआईटी को भेजी सूचना
वहीं मास्टर प्लान के तहत विभिन्न प्रोजेक्टों को पूरा करने के लिए मास्टर कंसलटेंट की बहाली की जानी है. इसके लिए  पटना महानगर क्षेत्र प्राधिकार की ओर से आईआईटी, एनआईटी सहित अन्य शिक्षण संस्थानों को पत्र दिया गया है. गौरतलब है कि  पायलट प्रोजेक्ट के तहत सौ एकड़ में 12 छोटे टाउनशिप मास्टर प्लान के तहत पांच सेटेलाइट टाउन बनाने की योजना है. जो अल्ट्रा डेवलप होंगे.
स्कूल, अस्पताल, पार्क के अलावा सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध होंगी. प्राधिकार ने इसके लिए बिहटा, दनियावां, खुसरूपुर, नौबतपुर व फतुहा का चयन किया है. हालांकि सेटेलाइट टाउन का बेस किसी इंडस्ट्रियल प्रोजेक्ट के आधार पर होगा. जो कंपनी प्लांट लगायेगी, उसको इसका विकास करना होगा.
पटना सहित छह शहरी नगर निकायों का होना है विकास 
मास्टर प्लान के तहत 1170 वर्ग किलोमीटर में 13 सीडी ब्लॉक बनाये गये हैं. इसमें छह शहरी इकाइयों मसलन, नगर निगम, नगर पंचायत व परिषद हैं, जिनको छोड़ कर प्राधिकार ग्राम पंचायत संपतचक, पुनपुन, नौबतपुर,मसौढ़ी, खुसरूपुर, धनरूआ व बिहटा का नक्शा पास करेगा. शास्त्री नगर स्थित बिहार राज्य भवन निर्माण निगम लिमिटेड के भवन में प्राधिकार का कार्यालय खोला गया है. नक्शा पास करने का आवेदन ऑफलाइन लिया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *