₹1 और 1 नारियल देकर हुई शादी, दूल्हे ने दहेज में मिला चेक और सामान लौटाया

जानकारी प्रेरणादायक

झारखंड के धनबाद में एक शादी चर्चा का विषय बनी हुई है. दूल्हा एक रुपया और एक नारियल लेकर अपनी दुल्हनिया को विदा कराकर ले गया .दूल्हे आकाश का कहना है कि उसने पहले से ही ये फैसला ले रखा था कि वह अपनी शादी में दहेज नहीं लेगा

दुल्हन के पिता ने 1 लाख 51 हजार रुपये का चेक और कुछ सामान दहेज में दिया था. इसे आकाश के पिता ने बड़े सम्मान के साथ लौटा दिया था शुरुआत में दुल्हन मुस्कान के पिता को लगा कि शायद उनसे कोई गलती हो गई है. इसकी वजह से चेक और सामान लौटा दिया गया है.

मगर, जब आकाश ने ससुर से शगुन में एक रुपया और एक नारियल लेकर शादी की बात कही, तो सभी हैरान रह गए. मौके पर मौजूद सभी लोगों की आंखों में आंसू आ गए.इस शादी की पूरे कोयलांचल में चर्चा हो रही है. शादी में पहुंचे रिश्तेदार, मेहमान सभी इस आकाश और उनके पिता की इस पहल की सराहना कर रहे हैं.

हेज मुक्त शादी का देना है संदेश- आकाश 

दूल्हे आकाश ने कहा कि वह दहेज मुक्त शादी कर समाज को संदेश देना चाहता था. इस फैसले में उनके माता पिता ने साथ दिया. इसलिए 1 रुपया और 1 नारियल के साथ मुस्कान को अपना जीवनसंगिनी बनाया. आकाश के पिता राजू बाल्मीकि ने बताया कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है. 1 लाख 51 हजार का चेक दहेज में मिला था

भाग्यशाली हूं कि मिला ऐसा दुल्हा- दुल्हन मुस्कान 

दुल्हन मुस्कान का कहना है कि उसने कभी सोचा भी नहीं था कि बिना दहेज के उनकी शादी होगी. जब यह बात उसे पता चली, तो वह बहुत खुश हो गई. ऐसे पति, ससुराल को पाकर वह मैं को बहुत भाग्यशाली मान रही हूं

रांची के वाल्मीकि नगर में वह पहली लड़की है, जिसकी शादी बिना दहेज के हुई है.

आकाश और मुस्कान की शादी की पार्टी में भाजपा विधायक राज सिन्हा भी शामिल हुए. उन्होंने कहा कि आकाश की दहेज मुक्त शादी की चर्चा हर तरफ हो रही है पूर्वजों ने दहेज प्रथा के खिलाफ जागरूकता चलाई थी. आकाश और उसके माता-पिता ने आदर्श समाज में प्रस्तुत किया है. हम सभी इसकी सराहना करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *