भारत-चीन के सैनिकों के बीच सोमवार रात लद्दाख की गलवान वैली में हुई हिंसक झड़प में बिहार के पांच जवान शहीद हो गए। पटना जिले के बिहटा के सुनील कुमार भी शहीद हुए। बुधवार शाम को विशेष विमान से उनका पार्थिव शरीर पटना एयरपोर्ट पर लाया गया। स्टेट हैंगर पर शहीद सुनील कुमार को श्रद्धांजलि दी गई।

कई मंत्री और सांसदों ने दी श्रद्धांजलि
शहीद को सबसे पहले उनके परिवार के लोगों ने श्रद्धांजलि दी। इसके बाद पटना के डीएम कुमार रवि ने श्रद्धांजलि दी। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, नंद किशोर यादव, तेजस्वी यादव, जगदानंद सिंह, जीतन राम मांझी, रामकृपाल यादव, पप्पू यादव, ललन सिंह, राम कृपाल यादव समेत कई नेताओं ने शहीद को श्रद्धांजलि दी। 

2002 में हुए थे सेना में भर्ती
शहीद जवान सुनील कुमार पटना के बिहटा के तारा नगर के शिकरिया गांव के रहने वाले थे। 35 साल के सुनील 2002 में सेना में भर्ती हुए थे। 2004 में उनकी शादी हुई। उनके तीन बच्चे हैं। 12 साल की बेटी का नाम सोनाली है। 10 और 5 साल के दो बेटों के नाम आयुष व विराट हैं। सुनील के बड़े भाई अनिल साव भी सेना में थे। वह रिटायर्ड हो चुके हैं

Sources:-Dainik Bhasakar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here