मनोज तिवारी को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बना सकती है भाजपा

राजनीति

एमसीडी चुनाव में भाजपा को प्रचंड जीत मिली। जीत के हीरो दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष एवं सांसद मनोज तिवारी ही रहे।

इसी के चलते भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एमसीडी चुनाव में भाजपा को मिली जीत के लिए प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को धन्यवाद दिया था। पीएम मोदी ने भी जीत पर टीम दिल्ली; जिसके मुखिया तिवारी हैं, को बधाई दी थी।

ऐसे में दिल्ली की राजनीति में यह सवाल आज नहीं तो कल उठना लाजिमी है कि क्या मनोज तिवारी भाजपा के अगले सीएम उम्मीदवार होंगे ? सवाल यह भी है कि उम्मीदवार बनने के बाद क्या वे दिल्ली के अगले मुख्यमंत्री बन पाएंगे?

मनोज तिवारी ने दिल्ली के एमसीडी चुनाव के दौरान खूब पसीना बहाया और जमकर प्रचार किया। ऐसे में पार्टी कार्यकत्र्ताओं और नेताओं के बीच उनकी छवि मजबूत हुई। जीत के लिए उनको क्रैडिट दिया जाना भी इस बात को दिखाता है। पिछले 2 विधानसभा चुनावों में भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार रहे किरण बेदी और हर्षवर्धन पार्टी को जिताने के लिए कुछ खास नहीं कर पाए।

ऐसे में दिल्ली भाजपा को एक नए चेहरे की तलाश थी जो पूरी पार्टी को एक साथ लेकर चले। ऐसे में मनोज तिवारी को पार्टी अध्यक्ष बनाया गया। कुछ मीडिया रिपोर्टों में इसे भाजपा का एक नया और प्रयोगवादी दाव बताया गया था जो सफल रहा। मनोज तिवारी युवा होने के साथ साफ-सुथरी छवि वाले भी हैं, इसलिए भाजपा दिल्ली में दांव लगाना चाहती थी।यही वजह है कि काफी पहले ही मनोज तिवारी को भाजपा अध्यक्ष बनाने का फैसला लिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.