देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में देशभर के चयनित छात्र-छात्राओं के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा 2020’ कार्यक्रम के दौरान छात्रों को परीक्षा के तनाव से बचने के कई टिप्स दिए, जिनमें उन्होंने चंद्रयान-2 से लेकर क्रिकेट तक का जिक्र किया।

पीएम मोदी के इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण बिहार के कई स्कूलों में दिखाया गया, जिसे लेकर छात्र उत्साहित दिखे और पीएम मोदी की सराहना करते हुए कहा कि हम उनकी बातों का अनुसरण करेंगे। कई छात्रों ने कहा कि उनकी बातें सुनकर परीक्षा का भय अब जाता रहा।

पीएम के साथ ‘परीक्षा पर चर्चा’ कार्यक्रम में बिहार के अलग अलग स्कूलों के कुल 70 विद्यार्थी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में बैठे थे, जिन्होंने पीएम मोदी को लाइव सुना और उनसे सवाल पूछे।

इस कार्यक्रम का मकसद यह सुनिश्चित करना था कि छात्र तनावमुक्त होकर आगामी बोर्ड एवं प्रवेश परीक्षाएं दें। ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के तीसरे सत्र में मोदी छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों से परीक्षा के तनाव को दूर करने पर संवाद कर रहे थे ।

पीएम मोदी के साथ परीक्षा पर चर्चा के लिए चयनित विद्यार्थी बिहार के 15 जिलों के हैं और 9वीं, 10वीं, 11वीं तथा 12वीं में अध्ययनरत हैं। बिहार से दिल्ली पहुंचे सभी बच्चे प्रधानमंत्री से सवाल करने को उत्साहित दिखे और कहा कि अगर मौका मिला तो सवाल भी तय कर लिए हैं कि हमें क्या पूछना है?

केन्द्रीय विद्यालय कंकड़बाग के छात्र ने कहा कि अगर मुझे मौका मिला तो वन नेशन थ्योरी पर पूरे देश में एक शिक्षा बोर्ड हो, वहीं डीएवी के छात्र ने कहा सिलेबस में चैप्टर के आधार पर परीक्षा में शामिल नहीं किया जाता है।

कोई छात्र शिक्षा प्रणली में नैतिक शिक्षा को शामिल करने तो कोई एक्सट्रा करिकुलर एक्टिविटीज को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर पीएम से सवाल करनेवाला है। साथ ही कोई छात्र परीक्षा पद्धति में बदलाव पर पीएम नरेंद्र मोदी से सवाल पूछने को उत्सुक दिखे।

प्रधानमंत्री के साथ परीक्षा पर चर्चा का पटना के बांकीपुर गर्ल्स स्कूल और मिलर हाई स्कूल में सुबह 11 बजे से लाइव प्रसारण किया गया।

परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में चयनित बच्चों में सबसे अधिक 19 अकेले पटना जिले के थे, जिनमें 10 छात्राएं जबकि 9 छात्र हैं। अररिया से 2, किशनगंज से 6, पूर्णिया से 4, बेगूसराय के 6, खगड़िया के 4, मुजफ्फरपुर के 6, सारण के 2, वैशाली के 2, दरभंगा के 4, समस्तीपुर के 6, भागलपुर के 2, भोजपुर के 3, मुंगेर के 2 और नालंदा के 2 विद्यार्थी शामिल हैं।

गौरतलब है कि इस विशेष अवसर पर प्रधानमंत्री की बातचीत में शामिल होने वाले 70 बच्चों समेत 79 सदस्यीय बिहार टीम के ठहरने, स्थानीय परिवहन और भोजन की व्यवस्था केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने किया था।

Source – Jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here