तेजस एक्सप्रेस को मिले बेहतर रिस्पॉन्स के बाद अब इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन एक नए सेगमेंट में ट्रेन चलाने जा रही है. हमसफर एक्सप्रेस की तर्ज़ पर इंदौर से वाराणसी रूट पर सिर्फ थ्री-एसी कोच की ट्रेन चलाई जाएगी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रेलवे इस ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों को खास सुविधाएं देने पर भी विचार कर रहा है. अभी तक ट्रेन में सफर करने वाले पैसेंजर को खुद ही अपना सामान लेकर स्टेशन तक जाना होता है. लेकिन अब आपको जल्द अपने सामान को लेकर खास सुविधा दी जाएगी. इसके तहत अगर आपने टिकट बुक कर लिया है और टिकट कन्फर्म है तो रेलवे आपका सामान आपके घर से लेगा, फिर उसे आपकी सीट तक पहुंचा देगा. इसी तरह आपको जहां जाना है वहां ट्रेन के पहुंचने पर स्टेशन से आपका सामान आपके घर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भी रेलवे की ही होगी. ये सुविधा बहुत ही मामूली शुल्क में मिल जाएगी.

आपको बता दें कि IRCTC देश की पहली दो प्राइवेट ट्रेन लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस और अहमदाबाद-मुंबई तेजस एक्सप्रेस का संचालन कर रही है. अब इंदौर-वाराणसी रूट पर IRCTC तीसरी प्राइवेट ट्रेन चलाएगी.

रेलवे की नई योजना- इसके लिए कई निजी कंपनियों से बात की जा रही है. यदि ये सुविधा शुरू हो गई तो इन ट्रेनों में जो वरिष्ठ नागरिक या अकेली महिलाएं सफर करती हैं तो उनके लिए बहुत ही सुविधा हो जाएगी. इन लोगों को अपना सामान उठाने की परेशानी से राहत मिल जाएगी. इस तरह से भी निजी कंपनियों को रेलवे में शामिल किया जा सकेगा.

कितना होगा किराया- प्राइवेट हमसफर एक्सप्रेस का किराया IRCTC तय करेगी. माना जा रहा है कि हमसफर एक्सप्रेस से 7 से 10 फीसदी तक ज्यादा किराया हो सकता है. इंदौर-वाराणसी रूट पर आने वाले पर्यटकों के लिए भी खास पैकेज होंगे. IRCTC के मुताबिक, इंदौर-वाराणसी रूट पर टूरिज्म के लिए संभावनाएं है. इसलिए प्राइवेट हमसफर एक्सप्रेस शुरू होगी. इस ट्रेन में खान-पान समेत दूसरी यात्री सुविधाएं मौजूद होंगी. अगले एक से डेढ़ महीने में इस ट्रेन का चलाने का लक्ष्य है.

150 नई प्राइवेट ट्रेनें चलेंगी
आपको बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी 2020 को पेश किए अपने दूसरे बजट में प्राइवेट ट्रेनों की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया.बजट भाषण में उन्होंने कहा, तेजस एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाएगी. सरकार ने 150 नए प्राइवेट ट्रेन पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल पर चलाने का फैसला किया है. तेजस ट्रेन की संख्या को बढ़ाया जाएगा, जो कि टूरिस्ट डेस्टिनेशन तक जाएंगे. 550 रेलवे स्टेशनों पर वाई-फाई सुविधा दी गई है.

SOURCE – NEWS 18

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here