पटना पहुंची साइंस एक्सप्रेस ट्रेन, बच्चों में दिखा उत्साह

खबरें बिहार की

छात्र-छात्राओं के लिए खुशखबरी। बहुप्रतिक्षित साइंस एक्सप्रेस ट्रेन पटना पहुंच गई है।देशभर में जलवायु परिवर्तन के प्रति जागरूकता फैलाने और दूरदराज के इलाकों में छात्रों को विज्ञान की आधुनिक चीजों के बारे में रूबरू कराने के उद्देश्य से भारत सरकार की कई मंत्रालय मिल कर जलवायु परिवर्तन थीम पर साइंस एक्सप्रेस ट्रेन में प्रदर्शनी लगायी है।

जो आज लंबी प्रतीक्षा के बाद पटना पहुँच रही है। साइंस एक्सप्रेस शनिवार और रविवार को जंकशन के प्लेटफॉर्म संख्या-10 पर लोगों के लिए लगायी जायेगी, जहां आम लोग सुबह 10:00 से लेकर शाम 5:00 बजे तक साइंस एक्सप्रेस के कोच में लगी प्रदर्शनी देख सकेंगे।
साइंस एक्सप्रेस देश के कोने-कोने में सितंबर 2017 तक जाएगी साइंस एक्सप्रेस के हर एक डिब्बे की अलग-अलग थीम है और इसके जरिए यह कोशिश की गई है कि देशभर में पढ़ने वाले बच्चे क्लाइमेट चेंज के हर एक पहलू से रूबरू हो सकें। साइंस एक्सप्रेस सभी के लिए खुली है और इस को देखने के लिए आपको किसी टिकट की जरूरत नहीं पड़ेगी।
पटना के बाद साइंस एक्सप्रेस दानापुर मंडल में किऊल स्टेशन पर 3 एवं 4 अप्रैल को, समस्तीपुर मंडल में सीतामढ़ी स्टेशन पर 5 अप्रैल को तथा समस्तीपुर में 6 अप्रैल को रुकेगी।
साइंस एक्सप्रेस का यह नौवां चरण है, जिसे क्लाइमेट एक्शन स्पेशल के रूप में चलाया जा रहा है। दिल्ली सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रेल मंत्री सुरेश प्रभु विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन एवं पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री अनिल माधव दवे ने 17 फरवरी 2017 को इसे हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था।

गौरतलब है कि 16 कोच कि यह ट्रेन अक्टूबर 2007 से समस्त भारत में भ्रमण कर रही है। अब तक आठ चरणों में इस ट्रेन ने कुल 1,45,000 किलोमीटर की यात्रा पूरी की है। साथ ही 1631 दिनों की प्रदर्शनी में इसे लगभग एक करोड़ 58 लाख लोगों ने देखा है। इस प्रकार साइंस एक्सप्रेस ने भारत की सबसे बड़ी, सबसे लंबे समय तक चलने वाली और सबसे ज्यादा लोगों द्वारा देखे जाने वाली गतिशील विज्ञान प्रदर्शनी होने का कीर्तिमान स्थापित किया है।
साइंस एक्सप्रेस के प्रदर्शनी को देखने के लिए स्कूल sciencexpress@gmail।com पर ईमेल कर सकते हैं। साइंस एक्सप्रेस की प्रदर्शनी हर एक शहर में जहां पर ये जाएगी वहां पर सुबह 10:00 बजे से लेकर 5:00 बजे तक आम जनता के लिए खुली रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.