Nitish Kumar

नीतीश के दहेजबंदी अभियान में सहयोगी बनने पर इस शिक्षक की हर कोई कर रहा तारीफ

प्रेरणादायक

पटना:  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दहेज बंदी को बड़ी सफलता मिल रही है। मुख्यमंत्री द्वारा दहेज़ बंदी के आवाहन के बाद कौरा मिडिल स्कूल के रिटायर्ड हेडमास्टर हरेंद्र सिंह ने दहेज की राशि लड़की वालों को लौटा दी थी़। इस खबर को मीडिया ने प्रमुखता से प्रकाशित की। इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को दहेज विरोधी अभियान में भूमिका निभाने के लिए कौरा मिडिल स्कूल के रिटायर्ड हेडमास्टर हरेंद्र सिंह के मोबाइल पर फोन किया और इस नेक कार्य के लिए बधाई दी।

 डीएम संजीव कुमार के निर्देश पर जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी द्वारा भी परिवार से संपर्क साधा गया है। वहीं, एसपी अवकाश कुमार ने भी रिटायर्ड हेडमास्टर से बात कर उन्हें बधाई दी। आरा नगर निगम की मेयर प्रियम देवी व उनके पति पूर्व मेयर सुनील कुमार ने भी बधाई दी है। जिला प्रशासन के द्वारा दहेज लौटाये जाने के फैसले पर हेडमास्टर हरेंद्र सिंह के परिवार को सम्मानित भी किया जायेगा। सीएम नीतीश कुमार ने संज्ञान लिया और आरा फोन कर रिटायर्ड हेडमास्टर हरेंद्र सिंह से बात की और बधाई दी़ सीएम ने बिना दहेज शादी के अभियान में सहयोग के लिए धन्यवाद भी दिया़। बुधवार की सुबह लगभग 10:15 बजे मुख्यमंत्री आवास से रिटायर्ड हेडमास्टर हरेंद्र सिंह के मोबाइल पर फोन आया। फोन करनेवाले ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आपसे बात करना चाहते हैं।

इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रिटायर्ड हेडमास्टर हरेंद्र सिंह से बात की। बातचीत के संबंध में हेडमास्टर हरेंद्र सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने परिवार द्वारा लिये गये निर्णय की सराहना की. उन्होंने कहा कि आपका यह फैसला समाज और राष्ट्रहित में काफी सराहनीय है और इससे समाज में एक मैसेज जायेगा। रिटायर्ड हेडमास्टर ने मुख्यमंत्री से मिलने का समय मांगा, तो उन्होंने सीएम आवास पर आने का आमंत्रण दे दिया. छठ के बाद रिटायर्ड हेडमास्टर हरेंद्र सिंह सूबे के मुखिया से मिलेंगे। उन्होंने बताया कि छोटे बेटे की शादी में आने के लिए मुख्यमंत्री से भी अनुरोध करूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.