दुर्गा मेला पर मौसम की मार पड़ी तो रो देंगे छोटे दुकानदार, भीड़ के इंतजार में गरीबों की दुकान में लाखों का दांव

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में दुर्गा  मेला बड़े धूमधाम से मनाया जा रहा है। नवरात्रि के अवसर पर जगह जगह पर सजे पंडालों में अबतक लोगों का तांता लगता रहा है। सोमवार को सूबे के कुछ हिस्सों में छिटपुट बारिश से दुर्गा मेले का मजा किरकिरा हो सकता है। मौसम विभाग के द्वारा जारी की गयी सूचना में सूबे के कई हिस्सों में अगले 3 दिनों तक बारिश की संभावना जताई गयी है। सूबे के 4 जिलों में भारी बारिश के आसार भी हैं। सोमवार को राजधानी पटना, और मुंगेर समेत राज्य के कई हिस्सों में आंधी के साथ बारिश हुई। पटना में लगा पंडाल आंधी में अस्त व्यस्त हो गया। अगले 3 दिनों तक बारिश की संभावना से इस बार दुर्गा पूजा मेले का मजा किरकिरा हो सकता है।

छोटे दुकानदारों पर पड़ेगी मौसम की मार

दुर्गा मेले में कमाने की सोचने वाले छोटे दुकानदारों पर मौसम की मार पड़ सकती है। ठेले पर खिलौने बेचने वाले और खाने पीने का सामान बेचने वाले छोटे दुकानदारों की लागत भी डूब सकती है। बीते दो साल से कोरोना के चलते दुर्गा मेला इस बार आयोजित हो पाया है। ऐसे में अपनी पूंजी लगाकर मेले में दुकान कर रहे दुकानदारों को घाटा झेलना पड़ सकता है।कर्ज लेकर मेले में कमाकर चुकाने की आस में बैठे दुकानदारों पर बारिश का बुरा असर पड़ेगा।

मौसम विभाग ने सूबे के कई हिस्सों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। राजधानी पटना में सजे पंडाल आंधी में उड़ गए। सोमवार को हल्की बारिश से लोगों को ऊमस और गर्मी से निजात मिली है लेकिन दो साल बाद फिर से लगे दुर्गा मेला फीका पड़ सकता है। मौसम विभाग ने अगले 3 दिनों तक सूबे के 12 जिलों में हल्की बारिश और 4 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने बताया कि बंगाल की खाड़ी के में बन रहे चक्रवात के मौसम से बिहार में बारिश के आसार हैं। 6 अक्टूबर के बाद मानसून थम जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.