देशभर में सबसे अधिक वीआइपी बिहार में, लोगों की सुरक्षा का हाल बेहाल

खबरें बिहार की

आपको जानकर हैरानी होगी कि देश के अन्य राज्यों के मुकाबले सबसे अधिक वीआइपी (अतिविशिष्ट व्यक्ति) बिहार में ही रहते हैं। यहां तक कि देश की राजधानी दिल्ली से भी अधिक।

जाहिर है इन वीआइपी की सुरक्षा में सबसे अधिक पुलिसकर्मियों की तैनाती बिहार में ही की गई है।

 

ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट (बीपीआरडी) की रिपोर्ट के अनुसार बिहार पुलिस राज्य में 3200 से अधिक वीआइपी को सुरक्षा प्रदान कर रही है।

इनकी सुरक्षा में बिहार पुलिस के 6,248 पुलिस अधिकारी और जवान तैनात हैं। बता दें कि आए दिन अपराधियों, नक्सलियों और आतंकियों की चुनौतियों का सामना करने वाले बिहार आबादी के अनुपात पर पुलिसकर्मियों की संख्या को लेकर देश के सबसे फिसड्डी राज्यों में शामिल है।

 

इस मामले में बिहार का स्थान देश में 33वां है। बिहार से नीचे केवल आंध्रप्रदेश का नाम आता है। बिहार में प्रति 839 लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी केवल एक पुलिसकर्मी पर है, जबकि इसका राष्ट्रीय औसत 554 लोगों पर एक पुलिसकर्मी का है।

देश की राजधानी दिल्ली में दिल्ली पुलिस की जिम्मेदारी केवल 489 वीआइपी को सुरक्षा प्रदान करना है। दिल्ली में रहने वाले 489 वीआइपी की सुरक्षा में सबसे अधिक 7,420 पुलिसकर्मी तैनात हैं।

दिल्ली में रहने वाले 489 वीआइपी में अधिकतर को जेड प्लस, जेड, वाइ प्लस व वाई श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध है।

 

इसी तरह देश के सबसे बड़े और सबसे अधिक आबादी वाले पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश में कुल 1,852 वीआइपी की सुरक्षा में 4,681 पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है।

इसी तरह पड़ोसी राज्य बंगाल में पुलिस सुरक्षा पाए वीआइपी की संख्या 2,207 है, जिनकी सुरक्षा में 4,233 पुलिसकर्मी तैनात हैं।

ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट की रिपोर्ट के अनुसार पूरे देश में पुलिसकर्मियों की संख्या 19.26 लाख है।

इनमें 56,944 की तैनाती वीआइपी सुरक्षा में की गई है, जबकि सवा सौ करोड़ आम लोगों की सुरक्षा बाकी के 18.50 लाख पुलिसकर्मियों पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.