गरीबों को मिलेगा 15 रुपए में सस्ता भोजन, पप्पू यादव करेंगे ‘जनाहार कैंटीन’ की शुरुआत

खबरें बिहार की

पटना : चेन्नई के अम्मा कैंटीन और कर्नाटक के इंदिरा कैंटीन की तर्ज़ पर बिहार में पप्पू जनाहार कैंटीन के संचालन की योजना बनाई जा रही है। मधेपुरा से पप्पू यादव ने एक प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गरीब मजदूरों को मात्र 15 रुपये में भरपेट भोजन उपलब्द कराया जाएगा। दरअसल, मधेपुरा से राजद सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव सोमवार को एक प्रेस वार्ता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि जब चेन्नई और कर्नाटक में ऐसी योजनाओं का सफल संचालन हो रहा है तो फिर बिहार में भी कम पैसे में गरीब मजदूरों को अच्छा खाना मुहैया कराया जा सकता है।

योजना की जानकारी देते हुए पप्पू यादव ने बताया कि शुरुआती दौर में तीन जिला मुख्यालयों में इस योजना के तहत कैंटीन खोलने की योजना है जिसके बाद अनुभव के आधार पर अन्य जिलों में भी पप्पू जनाहार कैंटीन खोला जाएगा। जनता के सहयोग से होगा संचालित प्रेस वार्ता के दौरान सांसद ने कहा कि सरकारी खर्च पर जब अम्मा कैंटीन और इंदिरा कैंटीन जैसी योजना चलाई जा सकती है तो बिहार में जनता के सहयोग से पप्पू जनाहार कैंटीन भी खोला जाएगा। उन्होंने बताया कि इस कैंटीन में मुख्यत: गरीब, मजदूर, गांवो से पलायन करने वाले गरीब लोगों को मात्र 15 रुपये में भरपेट भोजन मिलेगा।

प्रद्युम्न पर भी दी प्रतिक्रिया गुरूग्राम के स्कूल में मासूम छात्र प्रद्युम्न की हत्या पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए पप्पू ने कहा कि 70 के दशक में जिस तरह इंदिरा गांधी की सरकार ने बैंकों राष्ट्रीयकरण किया उसी तर्ज़ पर आज बैंकों से ज्यादा जरुरी है निजी नर्सिंग होम्स और निजी स्कूलों के सरकारीकरण का। उन्होंने कहा कि भारत सरकार का यह कदम ही मासूम प्रद्युम्न को सच्ची श्रद्धांजली होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.