खत्म हो सकती टॉस की परंपरा, आईसीसी लेगा बड़ा फैसला !

Other Sports

पिछले एक दशक से क्रिकेट के नियमों में काफी कुछ बदलाव देखने को मिला है| अब एक और बड़ा बदलाव आईसीसी लाने के बारे में सोच रही है| आईसीसी अब टेस्ट क्रिकेट में टॉस किया जाना चाहिए या नहीं इस पर विचार कर रही है|

क्रिकेट में देखने को मिलता है के मेजबान टीम का कप्तान सिक्का उछालता है और मेहमान टीम का कप्तान हेड या टेल में कॉल करता है|

टॉस को लेकर कहा जाता है कि इससे मेजबान टीम को फायदा मिलता है क्योंकि वह अपनी टीम की ताकत के अनुसार पिच बनवा लेती है। इस वजह से टॉस की एहमियत जरूरत से ज्यादा बढ़ जाती है। अब आईसीसी इसमें बदलाव करने का विचार करने वाली है।

इसकी शुरुआत 2019 में एशेज सीरीज से हो सकती है, जिसके साथ टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज होगा। 2019 एशेज सीरीज में मेजबान टीम तय करेगी कि उसे पहले बल्लेबाजी करना है या गेंदबाजी।

आपको बता दें कि 2016 से इंग्लिश काउंटी चैंपियनशिप की प्लेइंग कंडीशन्स में बदलाव किया गया है। इसके तहत मेजबान टीम पहले गेंदबाजी का फैसला कर सकती है, लेकिन अगर उसे यह फैसला ठीक नहीं लगे तो वह टॉस कर सकती है। इस मसले पर मई के अंत में मुंबई में आईसीसी की क्रिकेट समिति की बैठक होने जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.