अफसरों को कीर्ति आजाद ने धमकाया- बाढ़ राहत का काम सही नहीं हुआ तो लंका की तरह जला दूंगा सरकारी दफ्तर

खबरें बिहार की

दरभंगा से बीजेपी के सांसद कीर्ति आजाद ने धमकी दी है कि अगर बाढ़ राहत में कोताही बरती गयी तो मैं अपने हाथों से ही लंका की तरह पूरे प्रखंड कार्यालय को जला दूंगा। बाढ़ का कहर झेल रहे लोगों से कीर्ति मिलने पहुंचे तो उनका गुस्सा इस कदर था कि वो अपनी मर्यादा तक भूल गये।

उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में अधिकारियों को जम कर कोसा। कीर्ति ने कहा कि अगर बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास का काम सही से नहीं हुआ तो अधिकारियों के सिर गंजा और बदन को नंगा कर के उन्हें गदहे पर बिठा कर घुमाया जाएगा।

कीर्ति आज़ाद ने सबसे ज्यादा खरीखोटी अपने साथ चल रहे एसडीओ मोहम्मद रफीक को सुनाई और सार्वजनिक तौर पर जलील किया। कीर्ति आज़ाद ने अधिकारियों के ऊपर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार में दो फसल होती है एक खरीफ जो किसान उगाता है दूसरा रिलीफ जी अधिकारी खा जाते हैं।









दरअसल सांसद कीर्ति आज़ाद ने दरभंगा पहुंचते ही बाढ़ग्रस्त इलाकों में तूफानी दौरा शुरू कर दिया। अपने दौरे में कीर्ति आज़ाद दरभंगा के घनश्यामपुर प्रखंड पहुंचे और इलाके के पूरे प्रशासनिक अमले के साथ बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंचे जहां बाढ़ पीड़ितों की समस्या को सुना और साथ चल रहे अधिकारियों को निर्देश भी दिया।

अधिकारी कीर्ति आज़ाद के गुस्से के शिकार हो रहे थे बल्कि अपने आप को जलील भी होता महसूस कर रहे थे। कीर्ति आजाद की मानें तो ये अधिकारी ठीक से काम नहीं करते इस कारण जनता की गाली हमलोगों को सुननी पड़ती है और अधिकारी सिर्फ पैसे कमाने में लगे रहते हैं।











Leave a Reply

Your email address will not be published.