एक अक्टूबर को विसर्जन बाद रात्रि नौ बजे से मुहर्रम जुलूस

खबरें बिहार की

असानंदपुर में रविवार को सेंट्रल मुहर्रम कमेटी की बैठक अकिल अहमद की अध्यक्षता में संपन्न हुई।

मुहर्रम की दशवीं यानी एक अक्टूबर को सुबह कोई अखाड़ा और जुलूस नहीं निकालने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया।

डॉ. फारूक अली ने बताया कि दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन शोभा यात्रा निकाली जाएगी, जो शाम में संपन्न होगी। रात्रि नौ बजे से विभिन्न इमामबाड़ा से पहलाम के आखाड़ा निकाला जाएगा।

देर रात्रि में पहलाम संपन्न होगा। मुहर्रम की नवमीं 30 सितंबर को विभिन्न इलाकों से सुबह से मकामी इमामबाड़ा सराय आएगी।

दोपहर 2.30 बजे तक सारे अखाड़े वापस पहुंच जाएगी। शिया का अलम जुलूस दो अक्टूबर को बड़ी इमामबाड़ा असानंदपुर से सुबह 10.30 बजे शाहजंगी के लिए निकलेगी।

मुगलपुरा से अलम एक अक्टूबर को सुबह नौ बजे से जरलाही होकर शाहजंगी पहुंचेगी। बड़ी इमामबाड़ा असानंदपुर से पंखा टोला शाम छह बजे जाएगी और रात्रि 10 बजे लौटेगी।

इस मौके पर डॉ. मजहर अख्तर, शहाबुद्दीन, इकबाल अहमद, सलाहउद्दीन, महबूब आलम, एजाज अली रोज, मंजर आलम, मोकर्रम खान व चांद आलम आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.