इस मंदिर में माता के दर्शन करने पहुंचता है भालुओं की झुंड

आस्था

हमारे देश में कई चमत्कारिक और रहस्यमयी मंदिर हैं। इन मंदिरों में स्थापित प्रतिमाओं के दर्शन करने के लिए दूर-दूर से लोग पहुंचते हैं। कई मंदिरों में तो पूरे साल भक्तों का तांता लगा रहता है।

हमारे देश में एक ऐसा भी मंदिर है जहां मनुष्यों के अलावा भालू भी प्रतिदिन माता के दर्शन करने पहुंचे हैं। ये भालू आरती में शामिल होते हैं और हाथ जोड़कर पूजा करते हैं। आरती खत्म होने के बाद माता का प्रसाद भी ग्रहण करते हैं।

छत्तीसगढ़ के महासमुंद में घुंचापाली की पहाड़ी पर माता चंडी का मंदिर स्थित है। माता चंडी का यह मंदिर पहले तंत्र साधना के लिए काफी प्रसिद्ध था, लेकिन पिछले कुछ सालों से भालुओं की वजह से यह मंदिर सुर्खियों में है। यहां हर शाम भालुओं की टोली माता के दर्शन के लिए पहुंचती है।

कहा जाता है कि हर रोज भालुओं का पूरा परिवार शाम के वक्त मंदिर में आता है और यहां होनेवाली आरती में बाकी भक्तों के साथ शामिल होता है। ये सभी भालू हाथ जोड़कर माता की पूजा करते हैं। ये सभी भालू मंदिर के गर्भ गृह तक जाते हैं और माता का प्रसाद भी ग्रहण करते हैं।

यहां के लोगों का मानना है कि इस क्षेत्र में पहले बहुत भालू हुआ करते थे लेकिन वो दिखाई नहीं देते थे, लेकिन कुछ सालों से अचानक भालुओं का पूरा परिवार आरती के समय मंदिर में आने लगा है। यहां के लोग मंदिर में भालुओं के आने को माता के चमत्कार से जोड़कर देखते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.