अवैध निर्माण के कारण पटना के इस होटल पर गिरी गाज, चलेगा हथौड़ा

खबरें बिहार की

सात सितंबर को सुबह नौ बजे से पटना के होटल नेश इन पर हथौड़ा चलेगा जिसके लिए टीम गठित कर ली गई है। इनकम टैक्स के किदवईपुरी इलाके में होटल नेश इन को हाईकोर्ट से राहत नहीं मिली है। जिसके बाद नगर निगम कार्रवाई की शुरुआत करेगा।

हलांकि कुछ दिन पहले ही नगर निगम ने होटल को अवैध निर्माण तोड़ने का आदेश देते हुए समय दिया गया था बावजूद इसके बिल्डर ने अवैध निर्माण तोड़ने की पहल नहीं की जिसके बाद टीम गठित करते हुए नगर निगम ने यह टीम गठित की है।
गौरतलब है कि नगर आयुक्त कोर्ट के फैसले के विरोध में हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। बाद में इसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। होटल नेश इन पर वर्ष 2014 की जुलाई में कार्रवाई करने का फैसला नगर आयुक्त की कोर्ट से आया था। इसके बाद कानूनी पेंच का सहारा लेकर बिल्डर ट्रिब्यूनल और हाईकोर्ट में मामले को ले जाता रहा, लेकिन इस बार हाईकोर्ट से भी राहत नहीं मिलने के बाद नगर निगम को मजबूरन कार्रवाई करनी पड़ रही है।
नगर आयुक्त ने बताया कि भले ही संबंधित बिल्डर सुप्रीम कोर्ट में अपील करने की कोशिश करें, लेकिन नगर निगम उस से पहले ही कार्रवाई को अंजाम देगा। 30 दिनों के भीतर ऊपरी दो तल्लों को तोड़ना था।

आयकर गोलंबर के पास अपार्टमेंट के नक्शा पर होटल का निर्माण किया गया है। मामले पर नगर निगम ने संज्ञान लेते हुए अवैध निर्माण पर निगरानीवाद 139 ए/2013 दायर किया गया था।
जांच में नक्शे से लेकर सहकारी गृह निर्माण समिति की भूमि पर बहुमंजिली इमारत बनाने का मामला आया। वहीं अपार्टमेंट की जगह होटल (नेश इन) बनाने का मामला भी बना। साथ ही जी प्लस छह की जगह जी प्लस आठ का निर्माण किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.