अब बिहार में नहीं होगा अंधेरा, अगले महीने तक हर घर पहुंच जाएगी बिजली

खबरें बिहार की

पटना :  बिहार में अब किसी भी घर में अंधेरा नहीं होगा. हर घर तक बिजली पहुंचाने की तैयारी पूरी कर ली गई है. अगले महीने तक बिहार के सभी गांवों में बिजली पहुंच जाएगी. सोमवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों से मुखातिब केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आरके सिंह ने कहा कि दिसम्बर 2017 तक देश के हर गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य था, लेकिन दो माह पूर्व ही अक्टूबर के आखिर तक इस लक्ष्य को हासिल कर लिया जाएगा.

उन्होंने आगे कहा कि इसके लिए पैसे की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी. बिहार के लिए 20 हजार करोड़ की योजनाएं स्वीकृत हैं. बिहार समेत देशभर के जो गांव पहले चरण में विद्युतीकरण से छूट गए हैं, उनकी अलग से सूची राज्यों से मांगी जाएगी. ऐसे गांवों का विद्युतीकरण मार्च 2018 तक कर दिया जाएगा. सिंह ने कहा कि बिजली क्षेत्र में बिहार की प्रगति अन्य राज्यों से बेहतर है.

विद्युत आपूर्ति बाधित न हो, लोगों को बिना किसी रुकावट के सातों दिन और 24 घंटे बिजली मिले यह पहली प्राथमिकता है. वोल्टेज वैरिएशन की समस्या का सामना न करना पड़े, इसे लेकर कारगर कदम उठाए जा रहे हैं. सर्वाधिक बिजली उत्पादन के लिहाज से भारत दुनिया का चौथा, जबकि खपत के मुताबिक पांचवां देश है. इन दोनों में शीर्ष स्थान पाने का लक्ष्य है. ऊर्जा राज्यमंत्री ने कहा कि बिजली चोरी रोकना जरूरी है.

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की. इस शिष्टाचार मुलाकात के दौरान उन्होंने कहा कि सात निश्चय कार्यक्रम के तहत बिहार में चल रही हर घर बिजली योजना को केंद्र सरकार ने अपना लिया है. उन्होंने इस योजना की काफी तारीफ की. ऊर्जा मंत्री ने बिहार से जुड़ी ऊर्जा प्रक्षेत्र की विभिन्न योजनाओं पर भी विस्तार से चर्चा की.

Leave a Reply

Your email address will not be published.