बिहार के

अब जल्दी ही बिहार के विशेष राज्य का दर्जा पैकेज पर PM मोदी लगाएंगे मुहर

खबरें बिहार की

राजग के साथ हाथ मिलाते ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राज्य के विकास के लिए केंद्र से 2.75 लाख करोड़ रुपये का पैकेज मांगने जा रहे हैं। यह जानकारी जदयू प्रवक्ता केसी त्यागी ने दी।

जदयू प्रवक्ता ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव से राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की पटना में 27 अगस्त को होने जा रही ‘देश बचाओ रैली’ में भाग नहीं लेने का आग्रह किया है। त्यागी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने 11 अगस्त को हुई मुलाकात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बिहार सरकार के विभिन्न प्रयासों से अवगत कराया।

इस महीने के आखिरी सप्ताह में भी दोनों की मुलाकात होने वाली है। त्यागी ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से कहा कि भाजपा से हाथ मिलाने के बाद बिहार के लोगों की उम्मीदें बढ़ गई हैं। लोग तीव्र गति से विकास चाहते हैं।




बिहार के

मोदी इस बात से सहमत दिखे।’ उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने बिहार से संबंधित परियोजनाओं पर काम शुरू कर दिया है। कुमार ने सात निश्चय किए हैं। इसमें बिजली, पेयजल और हर घर को नालियों से जोड़ने के अलावा शौचालय का निर्माण कराना इसमें शामिल है।




2015 में सत्ता में वापसी के बाद यह सभी उनकी सरकार के एजेंडे में है। त्यागी ने कहा, ‘अब केंद्र और राज्य में एक ही गठबंधन की सरकार है तो हमें उम्मीद है कि बिहार पैकेज शीघ्र ही जारी होगा।

शीघ्र ही बिहार के अच्छे दिन आने वाले हैं।’ 2015 के विधानसभा चुनाव के दौरान मोदी ने बिहार के लिए 1.25 करोड़ रुपये का पैकेज देने का वादा किया था। उस समय नीतीश भाजपा विरोधी गठबंधन का हिस्सा थे।




बिहार के




बिहार के




बिहार के







Leave a Reply

Your email address will not be published.